ईर्ष्या में हुई अंकित सैनी की हत्या...फुफेरे भाई ने ही दोस्तों के साथ मिलकर काट डाली थी दरांती से गर्दन

ईर्ष्या में हुई अंकित सैनी की हत्या...फुफेरे भाई ने ही दोस्तों के साथ मिलकर काट डाली थी दरांती से गर्दन

मुजफ्फरनगर। ईर्ष्या में इंसान किस कदर अंधा हो जाता है, इसका जीता-जागता उदाहरण आज देखने को मिला। जानसठ के अंकित सैनी हत्याकाण्ड में गिरफ्तार तीनों अभियुक्तों ने खुलासा किया कि वे अंकित से ईर्ष्या रखते थे और इसी कारण उन्होंने उसकी हत्या कर दी है। दो हत्यारे अंकित की बुआ के लडके हैं और अपने दोस्तों के साथ मिलकर उन्होंने अंकित की दरांती से गर्दन काटकर हत्या कर दी। मात्र 7 माह पूर्व ही अंकित की शादी हुई थी और इस समय उसकी पत्नी गर्भवती थी। ईर्ष्या के चलते की गई अंकित सैनी की हत्या से हंसता-खेलता परिवार उजड गया। जानसठ कस्बे में गत दिवस की गई फोटोग्राफर अंकित सैनी की हत्या के मामले में जानसठ पुलिस व क्राईम ब्रांच की टीम ने तेजी से कार्यवाही करते हुए मात्र 8 घंटे में ही आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। अंकित की हत्या लूटपाट के मकसद से की गई थी। पुलिस ने तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर उनसे लूट का सामान भी बरामद कर लिया। पुलिस लाईन सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसपी देहात अजय सहदेव ने बताया कि गत दिवस जानसठ कस्बा निवासी अंकित सैनी पुत्र विजय कुमार की लूट करने के बाद बदमाशों ने हत्या कर दी थी, जिसका खुलासा कर जानसठ पुलिस ने तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से लूटा हुआ माल भी बरामद किया गया। मृतक अंकित सैनी की जानसठ में कम्प्यूटर व फोटोग्राफर की दुकान थी और घटना के समय वह दुकान से वापस लौट रहा था। एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को पांच हजार का ईनाम देने की भी घोषणा की है। एसपी देहात ने बताया कि अंकित सैनी की हत्या के मामले में पंकज पुत्र बसन्त सैनी निवासी पायल सिनेमा के पीछे कस्बा जानसठ, गौरव सैनी पुत्र धर्मपाल सैनी निवासी पायल सिनेमा के पीछे कस्बा जानसठ व मिन्टू पुत्र वीर सिंह जाटव निवासी कांशीराम आवास कस्बा जानसठ को मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से मृतक अंकित सैनी से लूटा गया एक एचपी कम्पनी का लैपटॉप, एक सोने की अंगूठी, मृतक का टिफन, एक वीवो फोेन, एक आलाकत्ल गन्ना छीलने वाली दरांती बरामद की गई है। इस घटना का खुलासा करने में जानसठ थानाध्यक्ष कमल सिंह चौहान, एसएसआई लेखराज सिंह, उपनिरीक्षक कर्मवीर सिंह, नवीन कुमार, हरिराज सिंह, क्राईम ब्रांच के उपनिरीक्षक आदेश त्यागी, कां. अमित कुमार, वकार अहमद, रोहित कुमार, कुलदीप कुमार, राजकुमार शामिल रहे।

Share it
Top