मकान की छत गिरने से तीन घायल...ग्रामीणों की मदद से घायलों को मलबे से बाहर निकाला

मकान की छत गिरने से तीन घायल...ग्रामीणों की मदद से घायलों को मलबे से बाहर निकाला

भोपा। लगातार हो रही बारिश के चलते कच्चे मकान की छत गिर जाने से तीन व्यक्ति छत के मलबे के नीचे दब गये। ग्रामीणों की सहायता से मलबे के नीचे दबे व्यक्तियों को घायल अवस्था में बाहर निकाल कर मोरना के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर लाया गया, जहां घायलों को जिला चिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया गया है। थाना व ककरौली ग्राम निवासी कारी इस्तखार पुत्र फयाज मदरसे में अध्यापन का कार्य करते हैं तथा किसी प्रकार अपने परिवार की आजीविका चलाते हैं। शनिवार दोपहर 2.30 बजे कारी इस्तखार के घर पर इस्लाम पुत्र अशरपफ, नसीम पुत्र शौकत बैठे हुए थे, तभी अचानक मकान की छत गिर गयी, जिसमें तीनों व्यक्ति दब गये धमाके की आवाज सुनकर आये ग्रामीणों ने मलबे में दबे व्यक्तियों को बाहर निकाला तथा घायल हो गये 52 वर्षीय कारी इस्तखार, 60 वर्षीय इस्लाम, 24 वर्षीय नसीम को 108 एम्बुलेंस द्वारा मोरना के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया, जहां से गम्भीर हालत के चलते घायलों को जिला चिकित्सालय ले जाया गया है। ग्रामीण अब्दुल समद, याकूब, शाहबाज, इन्तजार, अरशद, मखमूर, तबरेज, शाहनजर, गुलशेर, इस्माईल, मुशर्रफ अली, रहीस अब्बास, नफीस, वसीम, गफार, मोबीन, हा0 मौ. इकबाल आदि ने प्रशासन से कारी इस्तखार के मकान को पक्का बनवाने की मांग की है।

Share it
Top