मुजफ्फरनगर: पुलिस ने दी तीन घरों में दबिश

मुजफ्फरनगर: पुलिस ने दी तीन घरों में दबिश

खतौली। गुर्जर कालोनी में दो गुटों के बीच हुए संघर्ष के आरोपियों की धरपकड हेतु बीती रात कोतवाली पुलिस ने तीन घरों में दबिश दी, किन्तु कोई आरोपी हत्ते नहीं चढा। आरोप है कि दबिश के दौरान पुलिस ने घरो में तोड़फोड़ कर सामान खुर्द बुर्द कर दिया। छः दिन पूर्व गुर्जर कॉलोनी स्थित एक जिम में कसरत करने आये देवीदास व गुर्जर कालोनी निवासी दो युवकों के बीच आपसी टशन के बाद मारपीट हो गयी थी। आ बैल मुझे मार वाली कहावत के अनुरूप जमशेद कालोनी निवासी युवक फिरोज ने गुर्जर कालोनी निवासी युवक राजीव पर कटाक्ष कर दिया था। इसके बाद फिरोज व राजीव के बीच चली तनातनी रविवार रात को दो गुटों के बीच संघर्ष में बदल गयी थी। गुर्जर पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने फिरोज व इसके परिचितों उरूज, बॉबी, दानिश, जीशान सहित सात के विरुद्ध संगीन धाराओं 347, 307, 341, 147, 148, 149, 341, 323, 427, 504, 506 व 7 क्रिमिनल एक्ट में मुकदमा दर्ज किया था, जबकि फिरोज अली की पत्नि पारुल जैन की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करने के बजाये पुलिस ने उसे ठंडे बस्ते में डाल रखा है। बताया गया कि बीती रात पुलिस ने जमशेद कॉलोनी व नई आबादी के तीन घरों में दबिश दी, किन्तु कोई आरोपी पुलिस के हत्ते नहीं चढ सका। आरोप है कि इससे झल्लाई पुलिस ने घरों के दरवाजे तोड़ने के अलावा कीमती सामान खुर्द बुर्द कर दिया। आरोपी फिरोज की पत्नि पारुल जैन ने कोतवाली पुलिस पर एकपक्षीय कार्यवाही व घरों में तोड़फोड़ किये जाने की शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनन्तदेव तिवारी से कर अपनी तहरीर पर गुर्जर पक्ष के युवको के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किये जाने की मांग की है।

Share it
Top