कार मांगने पर दूल्हे समेत बाराती बनाये बंधक...देर रात्रि तक चली पंचायत में नहीं हुआ निर्णय

कार मांगने पर दूल्हे समेत बाराती बनाये बंधक...देर रात्रि तक चली पंचायत में नहीं हुआ निर्णय

चरथावल। शहनाईयों की गंूज के बीच लाड-प्यार से पाली बेटी को दूल्हे के साथ हंसी-खुशी विदा करने की तैयारी में लगे असलम त्यागी को अचानक उस समय झटका लगा, जब दूल्हे और उसके पिता ने विदाई से पूर्व आल्टो कार की मांग कर दी। यह मांग सुनते ही शादी के घर में सन्नाटा पसर गया। सभी मेहमानों व ग्रामीणों ने दूल्हे के पिता से खुशामद की, लेकिन वे आल्टो कार की मांग पर अडे रहे, तब गुस्साये ग्रामीणों ने दूल्हे व उसके पिता समेत बारातियों को बंधक बना लिया। मामले के निपटारे के लिये कुटेसरा में क्षेत्र के सम्भ्रान्त लोगों की पंचायत बुलाई गई। देर रात्रि तक पंचायत में कोई निर्णय न होने के कारण बाराती कुटेसरा में ही थे।
जानकारी के अनुसार चरथावल थानाक्षेत्र के गांव कुटेसरा में आज सवेरे सहारनपुर क्षेत्र के ग्राम झबीरन से असलम त्यागी के यहां उसकी बेटी रजिया की बारात आयी थी। बारात आते ही दूल्हे सोनू, उसके पिता ताजिम एवं बारातियों का स्वागत किया गया। खाने के बाद निकाह की रस्म पूरी की गयी। निकाह के बाद असलम अपनी नाजो से पाली बेटी को शहनाईयों की गंूज के बीच विदा करने की तैयारियों में लगा हुआ था, तभी दूल्हे ने आल्टो कार की मांग रख दी। यह मांग सुनते ही वहां सन्नाटा सा पसर गया। असलम ने कहा कि उसने उनके कहे अनुसार स्पलैंडर बाईक दी है, उसकी हैसियत कार देने की नहीं है, लेकिन दूल्हा सोनू और उसका पिता ताजिम कार लेने की मांग पर अडे रहे। मेहमानों और ग्रामीणों ने दूल्हे के पिता की बहुत देर तक खुशामद की, लेकिन कोई बात नहीं बने, इस पर गुस्साये ग्रामीणों ने दूल्हे और उसके पिता समेत पूरी बारात को बंधक बना लिया। बारात के बंधक बनते ही बारातियों में बेचैनी पफैल गयी। इसी बीच असलम त्यागी के कहने पर क्षेत्रा के सम्भ्रान्त लोगों की एक पंचायत कुटेसरा में शुरू हुई। शाम से शुरू हुई पंचायत देर रात्रि तक चलती रही, लेकिन देर रात्रि तक कोई निर्णय नहीं हो सका। रात्रि के समय बाराती कुटेसरा में ही थे, इस मामले में चरथावल पुलिस ने कोई भी जानकारी होने से इंकसर किया है।

Share it
Top