शिकायतों का निस्तारण न होने पर डीएम ने की कडी कार्यवाही

शिकायतों का निस्तारण न होने पर डीएम ने की कडी कार्यवाही

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने आईजीआरएस पोर्टल पर लम्बित शिकायतों के समयबद्ध निस्तारण न करने पर जिला पंचायतराज अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि, ईओ नगर पालिका मुजफ्फरनगर एवं बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी को कठोर चेतावनी जारी की है। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रदेश सरकार लम्बित शिकायतों के मामले में कठोर है। उन्होंने बताया कि लगातार समीक्षा के दौरान यह तथ्य सामने आ रहे थे कि उक्त अधिकारियों द्वारा शिकायतों का निस्तारण समयबद्ध नहीं किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला पंचायत राज अधिकारी के स्तर पर आईजीआरएस पोर्टल पर जुलाई 2017 के 4 सन्दर्भ समयावधि के उपरान्त डिलाटर श्रेणी के लम्बित थे। अगस्त माह में भी 3 प्रकरण लम्बित थे। उन्होंने बताया कि समीक्षा बैठक व बार-बार लिखित रूप से निर्देश दिये जाने के बावजूद भी जानबूझकर शिथिलता बरती गई है, जिससे स्पष्ट है कि जिला पंचायतराज अधिकारी द्वारा अपने पदीय दायित्व का निर्वहन गम्भीरता से नहीं किया जा रहा है। प्राप्त सन्दर्भो के समयान्तर्गत निस्तारण न करने पर पवन कुमार को प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान की गई है।
जिलाधिकारी ने कहा कि इसी प्रकार अधिशासी अधिकारी नगर पालिका मुजफ्फरनगर विकास सैन व बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी राजेश कुमार देवरार द्वारा भी आईजीआरएस पोर्टल पर डिपफाल्टर श्रेणी के प्रकरण निस्तारण हेतु लम्बित है। उन्होने बताया कि मुख्यमंत्राी के प्राथमिकता वाले कार्यक्रम में जानबूझ कर उक्त दोनों अधिकारियों द्वारा शिथिलता व लापरवाही बरते जा रही है। उन्होंने कहा कि बार-बार लिखित व मौखिक रूप से निर्देश दिये जाने के बावजूद दोनों अधिकारियों द्वारा समय से शिकायतों का निस्तारण नहीं किया गया है, जिससे यह स्पष्ट होता है कि राजकीय कार्यों एवं अपने दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरते तथा अनुशासनहीनता के निमित्त दोनांे अधिकारियों को कठोर चेतावनी इस निर्देश के साथ जारी की जाती है कि भविष्य में यदि दोबारा ऐसा संज्ञान में आया जो और भी अधिक कडी कार्यवाही अमल ले लाई जायेगी। जिलाधिकारी ने सभी जिलास्तरीय अधिकारियों को कडे निर्देश देते हुए कहा कि आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण नहीं किया जा रहा है, तो आगे भी अधिकारियों पर कार्यवाही जारी रहेगी।

Share it
Top