बकायेदार की पिटाई पर तहसील में हंगामा...स्टाम्प ड्यूटी की चोरी पर रिकवरी जारी होने के कारण अमीन ने जमकर पीटा

मुजफ्फरनगर। मकान के बैनामे में कम स्टाम्प लगाने पर खरीदार को जारी किये गये कमी स्टाम्प के नोटिस की रिकवरी जारी होने पर एक बकायेदार की अमीन द्वारा जमकर पिटाई किये जाने पर आज सदर तहसील में खूब हंगामा हुआ। वकीलों ने बकायेदार की पिटाई पर एतराज किया, जिस पर कापफी मामला बढ गया। तहसीलदार रंजीत सिंह ने वकीलों को समझा-बुझाकर शान्त किया। जानकारी के अनुसार सरवट निवासी वक्कार पुत्र शरीफ अहमद ने लगभग चार वर्ष पूर्व एक मकान खरीदा था। मकान के बैनामे के दौरान कम स्टाम्प लगाया और बाद में जांच के दौरान यह बात पकड में आ गयी। कम स्टाम्प ड्यूटी का नोटिस जारी करते हुए उस पर 44 हजार रूपये का जुर्माना किया गया। वक्कार ने नोटिस को गम्भीरता से नहीं लिया तथा जुर्माना अदा नहीं कर सका, जिसके चलते तहसील से उसकी रिकवरी जारी हो गयी। 80 हजार की रिकवरी का नोटिस मिलने पर वक्कार ने 50 हजार रूपये तहसील में जमा करा दिये और उस पर 30 हजार रूपये शेष रह गये, जिनका तकादा सरवट सर्किल का अमीन शैलेन्द्र सिंह लगातार कर रहा था। बताया जा रहा है कि आज सुबह वक्कार सरवट चौराहे पर खडा था, तभी शैलेन्द्र अमीन तहसील की गाडी में चार होमगार्ड बैठाकर वहां पहुंचा और वक्कार को गाडी में डालकर तहसील ले आया, जहां पर उसकी मारपीट शुरू कर दी गयी। बकायेदार की पिटाई होती देख, तहसील के वकीलों ने ऐतराज जताया और पिटाई करने का कारण पूछा। आरोप है कि अमीन ने वकीलों से अभद्रता कर दी, जिस पर वकील नाराज हो गये और उन्होंने जमकर हंगामा शुरू कर दिया। मौके पर पहुंचे तहसीलदार ने जांच के आदेश देकर मामला सम्भाला।

Share it
Top