धूमधाम से मनाई गई भगवान विश्वकर्मा की जयन्ती

धूमधाम से मनाई गई भगवान विश्वकर्मा की जयन्ती

मुजफ्फरनगर। विश्वकर्मा मंदिर धर्मशाला, इन्द्रा कालोनी में विश्वकर्मा जयन्ती बडे ही धूमधाम के साथ मनाई गई। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी प्रातः यज्ञ के साथ पूजा-अर्चना की गई। पुरोहित सत्यव्रत आर्य एवं यज्ञमान के रूप में कालूराम धीमान सपत्नीक उपस्थित रहे। यज्ञ पश्चात रविदत्त धीमान व पुरोहित सत्यव्रत आर्य ने बताया कि विश्वकर्मा जी उच्च कोटि के ऋषि, मुनि, महात्मा, देवता और परमेश्वर है। संसार के रचयिता और अन्न धन के दाता सांसारिक सुख सम्पत्ति, धन, वैभव और ऐश्वर्य आदि इन्ही की कृपा से मिलता है। ये ही विराट विश्वकर्मा या आदि विश्वकर्मा है। सृष्टि की रचना के पश्चात शिल्प साध्य विज्ञानादि बडे-बडे यज्ञों के करने और कराने तथा सब वर्गों के प्राणियों को स्थिर रखने के लिये पत्थर और लकडी की प्रतिमाओं का निर्माण करने के लिये और लोकों का उपकार करने के लिये ब्रह्मा जी ने विचार करके विराट या आदि विश्वकर्मा को पृथ्वी पर उत्पन्न किया। कार्यक्रम में बलविन्द्र सिंह, हरविन्द्र सिंह, कालूराम धीमान, नरेन्द्र कुमार श्रंगी, नरेश कुमार विश्वकर्मा, महेन्द्र दत्त धीमान, डॉ. अमन सिंह विश्वकर्मा, बिजेन्द्र कुमार धीमान, जनार्दन विश्वकर्मा, धनप्रकाश धीमान, महेन्द्र सिंह विश्वकर्मा, सतीश धीमान, आत्माराम धीमान, नरेन्द्र कुमार, दयानन्द, वेदप्रकाश, प्रवीण उर्फ बिट्टू, रमेशचन्द धीमान, राजेश प्रसाद, प्रमोद कुमार, सेवाराम धीमान, नरेश कुमार विश्वकर्मा, राधेश्याम विश्वकर्मा, मुकेश धीमान, सतीश, रमेशचन्द, शुभम, दलजीत, मोनू, मनोज, देवदत्त धीमान, संजीव विश्वकर्मा, अशोक धीमान, प्रवीण धीमान, तेलूराम धीमान आदि शामिल रहे।
विश्वकर्मा शोभायात्रा समिति द्वारा रविवार को हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी विश्वकर्मा दिवस समारोह बडे ही हर्षोल्लास से मनाया गया। सुबह प्रातः 9 बजे विश्वकर्मा चौक पर यज्ञ-हवन एवं प्रसाद वितरित के साथ-साथ भण्डारे का भी आयोजन किया गया। सभा में बोलते हुए डॉ. नरेश विश्वकर्मा ने बताया कि आज पूरे विश्व में भगवान विश्वकर्मा जी के नाम पर विश्वकर्मा दिवस के रूप में पूजा की जाती है, जिसमें सभी कारखानों में पूजा की जाती है। विश्वकर्मा जी की पूजा के साथ विश्वकर्मा का आशीर्वाद लिया जाता है। पूरे देश में सुख व शान्ति रहे, यह कामना की जाती है तथा सभी के कारोबार में तरक्की हो, इसके साथ-साथ बच्चों को भगवान विश्वकर्मा जी के बारे में जानकारी दी, जिसमें समाज के गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया। इस अवसर पर डॉ. नरेश विश्वकर्मा, जगदीश पांचाल, शांता प्रसाद शास्त्राी, निर्मल सिंह धीमान, चन्द्रपाल धीमान, दृष्टिमोहन जांगिड, मुकेश धीमान, योगेश धीमान, प्रदीप, जयदीप, विपिन, निशान्त, संदीप, अंगेश आदि उपस्थित रहे।
श्रीराम दरबार मंदिर शाहबुद्दीनपुर रोड पर भगवान विश्वकर्मा जयन्ती महोत्सव का आयोजन किया गया। प्रातः 9 बजे बैण्ड बजाकर भगवान विश्वकर्मा जी का आवाहन किया गया, उसके उपरान्त 11 बजे यज्ञ-हवन किया गया। यजमान ओमप्रकाश विश्वकर्मा सपत्नीक, यज्ञ पुरोहित पं. देवेन्द्र प्रसाद कार्यक्रम में शामिल रहे। उसके बाद विशाल भण्डारे का आयोजन किया गया। इस अवसर पर पवन पांचाल, नरेश पांचाल, अनिल पांचाल, विश्म्बर सिंह पांचाल, प्रहलाद पांचाल, रामपाल धीमान, रमेश धीमान, संजीव कुमार, राजीव कुमार, राधेश्याम, संजीव कुमार, राजीव कुमार, प्रदीप, अंकित, अभिषेक, हर्षित, पंकज, दीपक कुमार, सुमित, चुलबुल पांचाल, मयंक पांचाल आदि सम्मिलित रहे।

Share it
Top