घर से बुलाकर युवक की हत्या...सरवट फाटक के निकट पान के खोखे पर फोन कर बुलाया, सीने में मारी गोली

मुजफ्फरनगर। जनपद में अपराधों पर अंकुश लगाने की सभी कोशिशों को धता बताते हुए आज देेर रात्रि में अज्ञात बदमाशों ने एक युवक को पफोन कर उसके घर से बुलाकर सरवट फाटक के निकट सीने में गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। युवक की मौके पर ही मौत हो गयी। घटना की जानकारी मिलते ही बडी संख्या में लोग वहां इकट्ठा हो गये और हंगामा करते हुए शव को नहीं उठने दिया। घटना की जानकारी मिलने पर एसपी सिटी ओमवीर सिंह व सिविल लाईन थानाध्यक्ष गिरीशचन्द शर्मा भारी पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे और उत्तेजित भीड को बामुश्किल समझा-बुझाकर शान्त किया। पुलिस अधिकारियों ने हत्यारोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन देकर शव को कब्जे में ले लिया और जिला चिकित्सालय भिजवा दिया। मामले को लेकर सरवट फाटक पर घंटों तक अफरा-तफरी मची रही। जानकारी के अनुसार सिविल लाईन थानाक्षेत्र के अंतर्गत गांव सरवट निवासी 28 वर्षीय मुस्तफा पुत्र वाजिद अली आज अपने घर पर खाना खाते हुए परिजनों से बातचीत में मशगूल था, तभी उसके मोबाईल की घंटी बजी, जिस पर किसी परिचित युवक ने उसे मिलने के लिये सरवट पफाटक के निकट गांधी कालोनी में एक पान के खोखे पर बुलाया। उसने खाना खाकर कुछ देर में आने का वायदा किया। परिजनों ने उससे जानकारी चाही, तो उसने एक दोस्त का पफोन होने की बात कह दी और खाना खाने के बाद साईकिल उठाकर सरवट फाटक पर पहुंच गया। सूत्रों के अनुसार जब वह सरवट फाटक पार कर गांधी कालोनेी में पान के खोखे पर पहुंचा, तो वहां पहले से ही बाईक सवार दो युवक उसका इंतजार कर रहे थे, जिनमें से शायद एक उसका परिचित भी था। वह साईकिल पर बैठे-बैठे ही उनसे बात करने लगा, अचानक बाईक पर पीछे बैठे युवक ने अपनी एन्टी से तमंचा निकाला और मुस्तफा के सीने पर सटाकर नजदीक से गोली मार दी। अचानक गोली चलने से वहां अफरा-तफरी मच गयी। बाईक सवार दोनों युवक नसीरपुर रोड पर फरार हो गये। गोली लगते ही युवक नीचे गिर पडा और लहूलुहान हो गया। वहां पर कापफी लोगों की भीड लग गयी, जिसमें से एक युवक ने मृतक को पहचान लिया और तत्काल उसके परिजनों को पफोन कर सूचना दी। मौके पर पहुंचे परिजनों ने उसे उठाकर अस्पताल ले जाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। इसी बीच सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी और हंगामा शुरू हो गया। मृतक के परिजनों और मौहल्ले वालों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। पुलिस ने शव को उठाने का प्रयास किया, तो हंगामा कर रहे लोगों ने शव को नहीं उठने दिया। मामला बढता देख एसपी सिटी ओमवीर सिंह व सिविल लाईन थानाध्यक्ष गिरीशचन्द शर्मा भारी पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे। घटना से गुस्साये लोगों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। जाम लगने से वाहनों की भी वहां लम्बी-लम्बी कतारें लग गयी। हंगामा कर रहे लोगों ने तत्काल हत्यारोपी की गिरफ्रतारी व उचित मुआवजे की मांग की। पुलिस अधिकारियों ने उच्चाधिकारियों से बात की और कडी कार्यवाही का आश्वासन दिया। पुलिस के समझाने पर भी हंगामा कर रहे लोग नहीं माने और लगातार पुलिस के प्रति गुस्सा जाहिर करते हुए नारेबाजी करते रहे। घंटों तक हंगामा चलता रहा। पुलिस ने कई बार शव को उठाने का प्रयास किया, लेकिन भीड टस से मस नहीं हुई और अधिकारियों का भी घेराव शुरू कर दिया। मौके पर एसएसपी को भी बुलाने की मांग की गयी, लेकिन कापफी देेर होने के बाद एसपी सिटी ने भीड को समझाकर शान्त कर दिया। उन्होंने हत्यारोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जिला चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवा दिया। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि पुलिस कई बिन्दुओं पर जांच में जुट गयी है। युवक के मोबाईल पर फोन कर उसे बुलाने वाले की भी तलाश की जा रही है। माना जा रहा है कि किसी रंजिश को लेकर ही युवक की हत्या की गयी है। इस घटना को लेकर सरवट में भी शोक की लहर दौड गयी। बताया जा रहा है कि पैसों के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में मुस्तपफा की हत्या हुई है।

Share it
Top