डीएम के आदेश पर राशन डीलर की जांच शुरू, मिली गड़बड़ी

डीएम के आदेश पर राशन डीलर की जांच शुरू, मिली गड़बड़ी

ककरौली। जिलाधिकारी के आदेश पर पहुंची दो सदस्यीय टीम ने प्रधान समेत कई दर्जन कार्ड़ धारकों के बयान दर्ज कर रिर्पोट सौंपी। थाना व गांव ककरौली के धर्मेंद्र कुमार, अशोक कुमार, अरविंद कुमार, संजीव कुमार, रवि, कुलदीप, सोनू, कपिल आदि ग्रामीणों ने गत 18 अगस्त को जन सुनवाई में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजे पत्र में बताया कि राशन कार्डाें के सत्यापन के दौरान बीड़ीओ मोरना बीपी सिंह को गांव में 70 राशन कार्ड़ फर्जी मिले, सप्लाई इंस्पेक्टर की मिलीभगत से राशन ड़ीलर द्वारा गत दो वर्षाें से 70 फर्जी राशन कार्ड़ पर खाद्यान लेकर उसका गबन किया गया है, इसलिए सरकारी खाद्यान की रिकवरी राशन ड़ीलर से की जाए। मुख्यमंत्राी के सयुंक्त सचिव जिन्नरैन अहमद खां के आदेश पर ड़ीएम गौरी शंकर प्रियदर्शी ने जिला पूर्ति अधिकारी धु्रव सिंह को जांच कर कार्रवाई करने के आदेश किए। ड़ीएसओ के आदेश पर सप्लाई इंस्पेक्टर अनिल कुमार व रविंद्र कुमार राशन ड़ीलर की जांच को गांव में पहुंचे और प्रधान प्रकाशवीर व कई दर्जन ग्रामीणों से बातचीत की। जांच टीम ने बताया कि प्रथमदृष्टया भारी अनियमितता मिली है, राशन ड़ीलर को आरोप पत्र देकर एक सप्ताह के भीतर पिछले तीन माह के राशन वितरण की सूची और राशन कार्ड़ के आधार कार्ड़ की छायाप्रति मांगी गई है, सम्पूर्ण खामियों की रिर्पोट कर जिलाधिकारी को सौंपी जायेगी।

Share it
Top