शामली: लापता छात्राओं को बरामद करने वाली टीम होगी पुरस्कृतः एसपी

शामली: लापता छात्राओं को बरामद करने वाली टीम होगी पुरस्कृतः एसपी

थानाभवन। जलालाबाद से दो दिन पूर्व लापता हुई चार छात्राओं में से एक छात्रा के नाटकीय ढंग से घर वापस आने के बाद पुलिस ने शेष छात्राओं को जयपुर से सकुशल बरामद किया। पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम को 5 हजार रूपये इनाम देने की घोषणा की।
दो दिन पूर्व कस्बा जलालाबाद से विद्यालय की छुट्टी होने के बावजूद विद्यालय गयी फोजिया, मरियम पुत्री अनवर, सायना पुत्री शहजाद, सना पुत्री मौ. रशीद सभी नाबालिग बिना परिजनों को बताये चारों घूमने के लिए कस्बे से चली गयी थी। शाम तक घर वापस न आने पर चारों के परिजनों में हडकम्प मच गया था। पुलिस को सूचना देने के बाद परिजन व पुलिस छात्राओं की तलाश में जुट गयी थी। मंगलवार को मरियम नाटकीय ढंग से घर वापस आ गयी थी तथा उसने बताया था वे सभी जलालाबाद से सहारनपुर फिर चंडीगढ़ गयी, जहां पुलिस ने वापस ट्रेन में बैठा कर भेज दिया। मेरठ आने पर मरियम को तीनों छात्राओं ने बस में बैठा कर शामली भेज दिया था। पुलिस ने छात्रा से जानकारी लेकर चार टीमो का गठन किया, जिनमें से एक गाजियाबाद, एक मेरठ तथा दो दिल्ली गयी। मंगलवार शाम को तीनों छात्राओं में से एक ने जयपुर के पास से बस में किसी सवारी का मोबाइल लेकर अपने परिजनों से बात कर कश्मीर जाना बताया। जिस पर सवारी को छात्राओं पर शक होने पर सवारी ने डायल नंबर पर दोबारा फोन कर जयपुर होना बताया। परिजनों ने डायल नंबर की सूचना पुलिस अधीक्षक व थाना प्रभारी को दी। पुलिस अधीक्षक ने सर्विलांस की सहायता से छात्राओं की लोकेशन पता कर जयपुर पुलिस से सम्पर्क कर छात्राओं को बस से जयपुर थाने में उतरवा लिया तथा दिल्ली गयी टीम को जयपुर भेजा, जहां से पुलिस टीम तीनों छात्राओं को सकुशल थाने ले आई। थाना परिसर में आयोजित प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक डा. अजयपाल शर्मा ने बताया सभी छात्राए घूमने के उदेश्य से घर से गयी थी। उनके साथ अन्य कोई व्यक्ति नहीं था। लडकियों को बरामद करने में जलालाबाद की जनता ने सहयोग किया। पुलिस की टीमे बराबर कोशिश कर रही थी। छात्राओं को बरामद करने वाली टीम एसएचओ प्रमोद कुमार सिंह, एसआई जितेन्द्र सिंह, एसआई संदीप कुमार, लविक त्यागी व महिला कांस्टेबल अमिता गौतम को 5 हजार रूपये देने की घोषणा की। इस अवसर पर पूर्व चेयरमैन अशरफ अली खां, जहीर मालिक व छात्राओं के परिजन उपस्थित रहे। थाने में छात्राओं से क्षेत्राधिकारी राजेश तिवारी ने पूछताछ के पश्चात छात्राओं के परिजनों को सौंप दिया।

Share it
Top