मुजफ्फरनगर: रोडवेज बस चालक की पिटाई के मामले में सजा

मुजफ्फरनगर: रोडवेज बस चालक की पिटाई के मामले में सजा

मुजफ्फरनगर। सरकारी कार्य में बाधा डालकर रोडवेज बस चालक की पिटाई करने वाले तीन आरोपियों को कोर्ट ने दो-दो वर्ष की सजा सुनाई है। यह घटना 27 वर्ष पहले ग्राम बसेडा में हुई थी।
जानकारी के अनुसार अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम जितेन्द्र सिंह ने 27 वर्ष पुराने एक मामले में निर्णय देते हुए उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की रोडवेज बस के चालक कुंवरपाल सिंह को बस से नीचे उतारकर मार पिटाई करते हुए सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में बसेडा निवासी तीन आरोपियों खुर्शीद, इलियास व मुजफ्रफर अली को धारा 332 आईपीसी के तहत दोषी मानते हुए दो वर्ष की सजा व 500-500 रूपये का जुर्माना किया गया है। अभियोजन सूत्रों के अनुसार विगत 27 मार्च 1990 को मुजफ्फरनगर डिपो की रोडवेज बस मुजफ्फरनगर से भोकरहेडी जा रही थी। रास्ते में छपार के निकट बसेडा में बस ड्राईवर कुंवरपाल सिंह को बस से उतारकर मारपीट की गई थी तथा सरकारी कार्य में रूकावट डाली गयी थी। कोर्ट ने 27 वर्ष बाद इस मामले में कार्यवाही करते हुए अपना निर्णय सुनाया है।

Share it
Top