मण्डलायुक्त दीपक अग्रवाल ने किया जनता रसोई का शुभारम्भ

मण्डलायुक्त दीपक अग्रवाल ने किया जनता रसोई का शुभारम्भ

मुजफ्फरनगर। मण्डलायुक्त ने कहा कि भूखे को खाना खिलाना और प्यासे को पानी पिलाना सबसे बडा पुण्य का कार्य है। उन्होंने कहा कि ऐसे धार्मिक कार्यो में अपनी आहूति दे, जिससे जनपद में कोई भी व्यक्ति खाली पेट न सो पाये। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर के लोग बडे ही मानवतावादी है और बढ-चढकर मानवीय कार्यों में अपनी भूमिका अदा करते है। खतौली रेल दुर्घटना हादसे में भी बढ-चढकर अपनी भागीदारी निभाई और प्रशासन का पूर्ण सहयोग किया तथा घायलों को एक नई जिन्दगी दिलाई। जनपदवासियोें का यह जज्बा सराहनीय है। उन्होंने कहा कि सबसे पहले यह कार्य उन्होंने जनपद शामली में देखा, तो प्रयास करके 9 अगस्त को सहारनपुर में भी सामुदाायिक रसोई का शुभारम्भ किया गया, जिसमें दानकर्ताओं ने प्रतिदिन नियमित रूप से रसोई को चलाये जाने की जिम्मेदारी ली और देखरेख की।
मण्डलायुक्त दीपक अग्रवाल एवं जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी आज रेलवे स्टेशन पर स्थित रैन बसेरे में भूखे, शारीरिक अक्षम व असहाय लोगों के लिए मुजफ्फरनगर आईटी एसोसियेशन और शहीद भगत सिह एकता मंच के तत्वावधान में जनता रसोई का शुभारम्भ कर रहे थे। मण्डलायुक्त व जिलाधिकारी ने अन्नपूर्णा माता के चित्रा पर पुष्प अर्पित व दीप प्रज्जवलित करते हुए कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।
जिलाधिकारी ने कहा कि मण्डलायुक्त की प्रेरणा से मुजफ्फरनगर में भी सामुदायिक रसोई का शुभारम्भ हो पाया है। उन्होंने कहा कि इसी क्रम में अब अन्य सामुदायिक रसोई भी खोली जायेगी। उन्होंने संस्था के सचिव विकास पंवार का धन्यवाद करते हुए कहा कि अल्पावधि में उन्होंने इस रसोई की शुरूआत कराई। उन्होंने कहा कि हमारा उददेश्य है कि कोई भी व्यक्ति भूखा न सोये। इसके लिए जनपद के लोग आगे आ रहे है और धनराशि, आटा व अन्य सामग्री मुहैया करा रहे है।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा सुनील कुमार सिंह, समाजसेवी देवराज पंवार, मयंक बिन्दल, संजय मलिक, आकाश संगम, राजपाल, सतीश मलिक, सुन्दरलाल नारंग, सुमित गोयल सतनाम आदि उपस्थित थे।

Share it
Top