अधिग्रहित भूमि का मुआवजा शीघ्र मिलेगाः डीएम

अधिग्रहित भूमि का मुआवजा शीघ्र मिलेगाः डीएम

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी की अध्यक्षता में आज कलैक्ट्रेट सभागार में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 मेरठ-मुजफ्फरनगर, हरिद्वार व मुजफ्फरनगर (एसएच-59) मुजफ्फरनगर-सहारनपुर वाया देवबन्द मार्ग भू-अर्जन एवं चौडीकरण तथा सुदृढीकरण के सम्बन्ध में बैठक का आयोजन किया गया। इसके अतिरिक्त डीएफसीआईएल द्वारा अधिग्रहित की जा रही भूमि, आरओबी के निर्माण तथा बिजली घर निर्माण हेतु भूमि की अपलब्धता के सम्बन्ध में आ रही समस्याओं के निराकरण की अद्यतन प्रगति की समीक्षा भी की गयी।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि अर्जन की गयी किसानों की भूमि का जो मुआवजा शेष है, उसका वितरण प्राथमिकता के आधार पर कराया जाये। उन्होंने कहा कि अर्जित की गयी भूमि का डि-मार्गेशन का कार्य पूरा कर लिया जाये तथा जहां सम्पत्ति का मूल्यांकन अवशेष है, वहां तत्काल पूर्ण किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि शासन से मुआवजा राशि प्राप्त होते ही तत्काल उसका वितरण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने जिला वनाधिकारी को निर्देश दिये कि समन्वय स्थापित कर हाईवे के किनारे सडकें के दोनों और वृक्षारोपण के कार्य का प्रस्ताव बनाकर प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि नेशनल हाईवे की साफ-सफाई आदि के बारे में आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि ऐसी व्यवस्था की जाये, ताकि हाईवे साफ-सुथरा रहे और पानी आदि का जमाव न हो, जिससे मुवमैंट में कठिनाई न हो। उन्होंने रोड साईड लैंड कन्ट्रोल एक्ट के वाइलेशन के मामलों में नोटिस जारी किये जाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि नेशनल हाईवे बीच का प्लांटेशन बहुत अच्छा है, किन्तु साईड पौधारोपण के बारे में वनाधिकारी से समन्वय कर लिया जाये। उन्होंने कहा कि पौधारोपण के लिए नेशनल हाईवे उपयुक्त स्थान है।
जिलाधिकारी ने कहा कि खतौली और मुजफ्फरनगर के बीच हटाये जाने वाले स्ट्रक्चरों में तेजी लायी जाये। उन्होेंने तहसीलदार को निर्देश दिये कि जहां मुआवजा दे दिया गया है वहां स्ट्रक्चर हटा दिये जाये। जिलाधिकारी ने सीएसआर में कराये जाने वाले कार्याे की सूची उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने उपसा के प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देश दियेे कि यातायात के सुविधा के दृष्टिकोण से सडक निर्माण के समय पहले एक और की सडक बनायी जाये जिससे वाहनों का आवागमन बाधित न हो। उन्होंने कहा कि रोड सेफ्रटी ब्लाकेज मानक के अनुसार लगाई जाये। उन्होंने विद्युत विभाग को बिजली घर निर्माण के सम्बन्ध में बधाई कलां एवं बघरा में जमीन चिन्हित कर प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजे जाने के निर्देश दिये। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा सुनील कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन हरीश चन्द्र, डीएफओ, प्रोजेक्ट मैनेजर उपसा सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

Share it
Top