डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों पर रखी पुलिस ने कडी नजर

डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों पर रखी पुलिस ने कडी नजर

मुजफ्फरनगर। एक साध्वी के साथ रेप के 15 वर्ष पुराने मामले में पंचकूला की सीबीआई कोर्ट द्वारा दोषी करार दिये गये डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की गिरफ्तारी के पश्चात हुए बवाल को देखते हुए पुलिस-प्रशासन लगातार दूसरे दिन भी बेहद चौकन्ना रहा। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिये समुचित तैयारी की गयी थी। डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों पर पुलिस-प्रशासन की कडी नजर रही। खुफिया विभाग भी पूरी तरह सक्रिय रहा और नगर के दोनों नामचर्चा घरों पर भी पुलिसबल तैनात रहा। एसएसपी अनन्तदेव तिवारी व एसपी सिटी ओमबीर सिंह भी लगातार पुलिस अधिकारियों से अपडेट लेते रहे। जिलाधिकारी के निर्देश पर कानून व्यवस्था की स्थिति को सुदृढ बनाने के लिये गत दिवस सिटी मजिस्ट्रेट वैभव मिश्रा ने नगर क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दी थी, आज एसडीएम बुढाना व जानसठ ने भी अपने-अपने तहसील क्षेत्रों में भी निषेद्याज्ञा लागू कर डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों पर शिकंजा कस दिया है। पुलिस बल डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों के घरों पर भी लगातार नजर गडाये हुए है। पंचकूला जाने के लिये नगर से दो बसों में भरकर रवाना हुए अनुयायी पुलिस ने अम्बाला में ही रोक रखे थे। गत दिवस बवाल होने के बाद सभी अनुयायी आज सुबह वापस लौट आये। इसके बाद पुलिस विभाग ने उन पर कडी नजर रखनी शुरू कर दी है। डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों की हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। पुलिस-प्रशासन बेहद चौकन्ना है और किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिये पूरी तरह तैयार है। शहर कोतवाल संजीव शर्मा, सिविल लाईन थानाध्यक्ष गिरीशचन्द शर्मा व नई मण्डी कोतवाल कुशलपाल सिंह लगातार अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण कर रहे हैं। सीओ सिटी हरीश भदौरिया भी स्थिति पर कडी नजर रखे हुए है। इसी बीच उप जिला मजिस्ट्रट (बुढाना) कुमार भूपेन्द्र ने कहा कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरूमीत गुरू राम रहीम के विरू( न्यायालय के आदेश एवं ईदज्जुहा (बकरा ईद), दशहरा, विजयदशमी, दीपावली एवं गोवर्धन पूजा एवं विभिन्न राजनैतिक/सामाजिक संगठनों के द्वारा धरना प्रर्दशन के दृष्टिगत अवान्छनीय तत्वों द्वारा कानून एवं शान्ति व्यवस्था के विपरीत कार्य करते हुए सब डिवीजन की शान्ति एवं कानून व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव डाला जा सकता है। इस परिप्रेक्ष्य में तहसील बुढाना क्षेत्र परिक्षेत्र (सब डिवीजन) में प्रतिबन्धात्मक आदेश लागू किया जाता है। वर्तमान परिवेश में शान्ति एवं कानून व्यवस्था/लोक पर शान्ति बनाए रखने के उद्देश्य से तहसील बुढाना क्षेत्र में 31 अक्टूबर तक धारा-144 लागू कर दी गयी है। इस आदेश का उल्लंघन भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध होगा। उप जिला मजिस्ट्रेट (जानसठ) ने कहा कि माह सितम्बर एवं अक्टूबर 2017 में ईदज्जुहा (बकरा ईद), दशहरा, मोहर्रम, विजय दशमी, दीपावली एवं गोवर्धन पूजा एवं विभिन्न राजनैतिक/सामाजिक संगठनों के द्वारा धरना प्रदर्शन के दृष्टिगत अवान्छनीय तत्वों द्वारा कानून एवं शान्ति व्यवस्था के विपरीत कार्य करते हुए सब डिवीजन की शान्ति एवं कानून व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव डाला जा सकता है। इस परिप्रेक्ष्य में तहसील जानसठ क्षेत्र परिक्षेत्र (सब डिवीजन) में प्रतिबन्धात्मक आदेश लागू किया जाता है। वर्तमान परिवेश में शान्ति एवं कानून व्यवस्था/लोक पर शान्ति बनाए रखने के उद्देश्य से तहसील जानसठ क्षेत्र में 23 अक्टूबर तक धारा-144 लागू कर दी गयी है। इस आदेश का उल्लंघन भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध होगा। निषेद्याज्ञा लागू होने से शिकंजा कसा जा सकेगा।

Share it
Top