फर्रुखाबाद में पुलिसकर्मियों और ग्रामीणों में झड़प, तीन पुलिसकर्मी निलंबित

फर्रुखाबाद में पुलिसकर्मियों और ग्रामीणों में झड़प, तीन पुलिसकर्मी निलंबित

फर्रूखाबाद। उत्तर प्रदेश में फर्रूखाबाद के कम्पिल क्षेत्र में एक राशन कोटेदार की संदिग्धावस्था में मृत्यु से गुस्सायी भीड़ और पुलिसकर्मियों के बीच हुई मारपीट और पथराव की घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक दयानंद मिश्र ने थानाध्यक्ष और दो कांस्टेबलों को आज निलम्बित कर दिया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कल रात रूदायन गांव से कुछ युवक समीउद्दीनपुर गांव निवासी राशन कोटेदार राधेश्याम (60) के घर राशन लेने के लिये जा रहे थे। उन्हें गश्ती पुलिस ने रोका और कोटेदार के घर ले गए जहां पुलिस और कोटेदार के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि पुलिसकर्मियों ने कोटेदार के साथ मारपीट की। कुछ समय बाद उसकी मृत्यु हो गयी। वहीं, पुलिस का मानना है कि राधेश्याम हृदय रोग से पीडि़त था,जिससे प्रथम²ष्टया उसकी मृत्यु दिल का दौरा पडऩे से हुई। दूसरी ओर, राधेश्याम की मृत्यु के बाद गुस्साये ग्रामीणों ने आज सुबह धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया जिस पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इस पर आक्रोशित भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया। इस दौरान दो मोटरसाइकिलों में आग लगा दी गयी। घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार, पुलिस अधीक्षक दयानन्द मिश्र और अन्य अधिकारियों के अलावा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद मुकेश राजपूत, विधायक सुशील शाक्य, विधायक अमर सिंह खटिक आदि नेता घटनास्थल पर जा पहुॅचे। उन्होंने बताया कि मृतक के भाई राजेन्द्र सिंह की तहरीर पर थानाध्यक्ष ललितेश त्रिपाठी और दो पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस अधीक्षक ने थानाध्यक्ष समेत आरोपी तीनों पुलिसकर्मियों को तत्कालिक प्रभाव से निलम्बित कर दिया। मामले की छानबीन की जा रही है।

Share it
Top