बकरीद शान्तिपूर्ण वातावरण में मनायेः डीएम...खुले स्थानों पर जानवरों की कुर्बानी न करें व अवशेषों को सुव्यवस्थित ढंग से गड्ढे में दबाये

बकरीद शान्तिपूर्ण वातावरण में मनायेः डीएम...खुले स्थानों पर जानवरों की कुर्बानी न करें व अवशेषों को सुव्यवस्थित ढंग से गड्ढे में दबाये

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने कहा कि ईदुज्जुहा (बकरीद) का त्यौहार सुव्यवस्थित, शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इसके पूर्व कांवड यात्रा एवं गत वर्ष ईद का त्यौहार जिस शांतिपूर्ण एवं सदभाव के साथ मनाया गया। उसी प्रकार ईदुज्जुहा (बकरीद) का त्यौहार आपसी भाईचारे के साथ मनाया जायेगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि आगामी त्यौहार ईदुज्जुहा (बकरीद) के अवसर पर पर्याप्त साफ-सफाई, विद्युत एवं पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करायी जायेगी। समस्त अधिशासी अधिकारी पानी की आपूर्ति के लिये वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में जनरेटर सैट की उपलब्धता सुनिश्चित रखेंगे। कानून व्यवस्था की स्थिति से खिलवाड नहीं होने दिया जायेगा। समस्त क्षेत्राधिकारी एवं उप जिलाधिकारी भ्रमणशील रह कर स्थिति पर पैनी नजर रखे। जिलाधिकारी ने कहा कि यहां की जनता आपसी प्रेम व भाईचारे में अटूट विश्वास रखती है। जिलाधिकारी ने कहा कि आने वाले त्यौहारों मे भी यहां के नागरिक एकता व सूझबूझ का परिचय देंगें, ऐसा हम सबका विश्वास है।
जिलाधिकारी ने सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिये कि ईद से एक दिन पहले आवारा जानवरों को बाडों में बन्द कराये तथा यह भी सुनिश्चित कर लें कि ईद की नमाज से पहले कोई भी अवारा पशु गली, मौहल्ले व सडकों पर घूमता हुआ नहीं मिलना चाहिये। जिलाधिकारी ने कहा कि कानून व्यवस्था के मामले में कोई समझौता न किया जाये। अमन कायम रहना चाहिए। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि समस्त एसडीएम, समस्त क्षेत्राधिकारी भ्रमणशील रहे और निचले स्तर पर मौजिज लोगों के साथ बैठक करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ग्रामवार ग्राम प्रधानों तथा मौजिज व्यक्तियों के मोबाइल नम्बर भी अपने पास रखे। उन्होंने कहा कि अपफवाहे न पफैलने दे। उन्होंने सभी सम्भ्रांत व्यक्तियों से अपील की कि सोशल मीडिया पर कोई ऐसी पोस्ट न डाले, जिससे माहोल खराब हो, बल्कि यदि कोई बात उनके संज्ञान मंें आती है, तो सम्बन्धित थानाध्यक्ष, एसडीएम, क्षेत्राधिकारी अथवा उच्चाधिकारियों की संज्ञान में लायी जाये, जिससे समस्या का उसी स्तर पर समाधान कराया जा सके। उन्होंने कहा कि 24 घण्टे सतत एवं पैनी नजर रखी जायेगी। उन्होंने कहा कि अराजकता उत्पन्न करने वालों को बख्शा नहीं जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि हमें त्यौहार के खुशनुमा माहौल को चार कदम और आगे बढाना है तथा आपसी मेल मिलाप और भाईचारे की भावना को और बलवती बनाना है। उन्होंने कहा कि पुलिस एवं प्रशासन 24 घण्टे उपलब्ध है। उन्होंने सभी मौजिज/प्रतिष्ठित लोगों को ईद की अग्रिम बधाई भी दी।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंतदेव तिवारी ने कहा कि ईद के अवसर पर कोई नई परम्परा न डाली जाये। उन्होंने कहा कि सुव्यवस्थित एवं शांतिपूर्ण माहौल में ईदुज्जुहा का त्यौहार सम्पन्न कराने के लिए पुलिस अधिकारी भ्रमणशील रहेंगे और चप्पे-चप्पे पर पैनी नजर रखेेंगे। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से निचले स्तर पर शांति समितियों की बैठक आयोजित करने तथा मौजिज लोगों के सम्पर्क में रहने तथा उनके मोबाईल नम्बर रखने के भी निर्देश दिये। उन्होंने शांति समिति के सदस्य एवं मौजिज लोगों से कहा कि अपने गांव व मौहल्लों में छोटी से छोटी से घटना की जानकारी शासन प्रशासन से सांझा करें। उन्होंने कहा कि प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी नहीं दी जायेगी। उन्होंने कहा कि खुले में कटान न किया जाये और अवशेषों को निस्तारण चिन्हित स्थान पर ही किया जाये। उन्होंने कहा कि अराजक तत्वों पर कडी नजर रखी जायेगी तथा अराजकता उत्पन्न करने वाले लोगों से सख्ती के साथ निपटा जायेगा। उन्होंने कहा कि आवारा पशुओें को त्यौहार के अवसर पर बाडे में रखा जाये और त्यौहार के बाद ही उन्हें बाडे से बाहर आने दिया जाये। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम व पुलिस क्षेत्राधिकारी आपस में सामंजस्य बनाये रखे, ताकि कोई अप्रिय स्थिति उत्पन्न न होने पाये। उन्होंने कहा कि छोटी से छोटी घटना पर पैनी नजर रखे और उसका तत्काल निस्तारण कर सूचित करें। बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन हरीशचन्द्र, समस्त उप जिलाधिकारी, एसपी सिटी ओमवीर सिंह, क्षेत्राधिकारी, परियोजना निदेशक, अधिशांसी अभियंता विद्युत, समस्त अधिशांसी अधिकारी तथा अन्य सम्बन्धित जिला स्तरीय अधिकारी एवं बडी संख्या में गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।

Share it
Top