मुबारिकपुर गांव में तनाव की स्थिति...सरकारी नल में पडे सबमर्सिबल को निकालने की शिकायत करने पर हंगामा

मुबारिकपुर गांव में तनाव की स्थिति...सरकारी नल में पडे सबमर्सिबल को निकालने की शिकायत करने पर हंगामा

मंसूरपुर। थाना क्षेत्र के गांव मुबारिकपुर निवासी दो व्यक्तियों की शिकायत पर सरकारी नल में पडे सबमर्सिबल को निकालने गई जल निगम की टीम को ग्रामीणों के विरोध को लेकर बैरंग लौटना पड़ा। ग्रामीणों ने कहा कि या तो पूरे गांव के हैंडपंप मे पडे समर्सिबल निकाले जाएं, अन्यथा किसी एक नल में पडे सबमर्सिबल को नहीं निकालने दिया जाएगा।
ज्ञात रहे कि गांव मुबारिकपुर निवासी शर्मादत्त पुत्र मित्रसेन व सुरेश चंद पुत्रा सुखबीर सिंह ने जिलाधिकारी, एसएसपी, कमिश्नर व मुख्यमंत्री तक शिकायती पत्र भेजकर आरोप लगाया था कि गांव के कुछ दबंगों ने सरकारी नल पर कब्जा कर नल के अंदर सबमर्सिबल डाल रखा है। इसी बात की जांच करने व सरकारी नल से सबमर्सिबल निकालने के लिए उच्चाधिकारियों के आदेश पर जल निगम की टीम में शामिल जेई ओमप्रकाश व सुपरवाइजर सहेंसर पाल बुधवार की शाम गांव मुबारिकपुर में पहुंचे और सरकारी नल से सबमर्सिबल निकालने के लिए कहने लगी, तभी वहां पर पूरा मौहल्ला इकट्ठा हो गया। जानकारी मिलने पर काफी संख्या में ग्रामीण भी मौके पर इकट्ठा होने लगे। ग्रामीणों ने जांच टीम को साफ शब्दों में कहा कि या तो पूरे गांव के सरकारी नल में डाले गए सबमर्सिबल को निकाला जाए। अन्यथा एक नल से सबमर्सिबल नहीं निकालने दिया जाएगा। ग्रामीणों ने दोनों शिकायतकर्ताओं पर आरोप लगाया और कहा कि एक शिकायतकर्ता सुरेशचंद्र पुत्र सुखबीर का घर तो यहां से करीब चार सौ मीटर दूर है, जबकि दूसरे शिकायतकर्ता शर्मादत्त पुत्र मित्रसेन इसी नल से पानी भरता है। शिकायतकर्ताओं ने जो भी आरोप लगाए हैं वह सब निराधार हैं। दोनों शिकायतकर्ता गांव में अपनी नेतागिरी चमकाने के लिए इस तरह की झूठी शिकायत अधिकारियों से कर रहे हैं और दोनों नौटंकीबाज किस्म के इंसान हैं। ग्रामीणों ने जांच टीम के सामने ही सरकारी नल को चलाकर भी दिखाया और कहा कि इसमें किसी को पानी खींचने या ले जाने के लिए किसी ने कोई पाबंदी नहीं लगाई गई है। जांच टीम में भी मौके पर ही नल को अपने हाथों से चला कर देखा। जांच टीम ने मौके पर खड़े सभी ग्रामीणों के हस्ताक्षर करा कर कहा कि हम रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को भेज देंगे। जैसा उच्चाधिकारियों का आदेश होगा बाद में वैसी कार्यवाही की जाएगी।

Share it
Top