हादसे के जिम्मेदार बख्शे नहीं जायेंगेः सुरक्षा आयुक्त

हादसे के जिम्मेदार बख्शे नहीं जायेंगेः सुरक्षा आयुक्त

खतौली। सांप निकल जाने के बाद लकीर पीटने की तर्ज पर रेल सुरक्षा आयुक्त उत्तर परिमण्डल एसके पाठक ने आज उत्त्कल एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्त होने का स्थलीय निरीक्षण कर स्थानीय रेलकर्मियों व आसपास रहने वालों से बातचीत की। 19 अगस्त की शाम को तहसील के सामने पुरी से हरिद्वार जा रही उत्त्कल एक्सप्रेस रेल विभाग की लापरवाही के चलते दुर्घटना का शिकार हो गयी थी। हादसे में 24 यात्रियों की मौत होने के अलावा सैंकड़ो यात्राी घायल हो गये थे। हादसे के तुरन्त बाद इलेक्ट्रोनिक मीडिया ने आतंकी साजिश का शोर मचाना शुरू कर दिया था। उत्त्कल के आतंकी साजिश का शिकार होने की बात को आसपास रहने वाले नागरिकों ने नकार कर मौके पर आये आला अध्किारियों को हादसा लापरवाही से होने की सच्चाई से अवगत कराने पर रेल मंत्रालय ने रेल सुरक्षा आयुक्त को जांच का जिम्मा सौंपा था। आज रेल सुरक्षा आयुक्त ने घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण कर स्थानीय रेलकर्मियों व नागरिकों से बातचीत की। तत्पश्चात प्रेस प्रतिनिध्यिों से वार्ता करते हुए रेल सुरक्षा आयुक्त एसके पाठक ने कहा कि रेल मंत्रालय घटना के प्रति गम्भीर है तथा हादसे के जिम्मेदारों को बक्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि हादसे के बाद रेल मंत्रालय ने बड़ी कार्यवाही की है। रेल सुरक्षा आयुक्त एसके पाठक ने रेल हादसे में क्षतिग्रस्त हुए मकान मालिक चौध्री जगत सिंह व चौध्री विनय अहलावत पिंटू के घर जाकर उनसे बातचीत की। दूसरी और भीषण रेल हादसे के बाद दिल्ली-सहारनपुर रेल लाइन पर ठप्प हुआ। यातायात बीती रात सुचारू हो गया। रेलों का संचालन ध्ीमी गति से कराया गया। नागरिकों में चर्चा है कि रेल विभाग अपनी लापरवाही पर जांच कराने के नाम पर अब सांप निकलने के बाद लकीर पीटने वाला काम कर रहा है।

Share it
Top