घायलों की देखभाल को लगातार भागदौड करते रहे जनप्रतिनिधि

घायलों की देखभाल को लगातार भागदौड करते रहे जनप्रतिनिधि

मुजफ्फरनगर। केंद्रीय राज्यमंत्री डॉ. संजीव बालियान, सदर विधायक कपिलदेव अग्रवाल, चरथावल विधायक विजय कश्यप, बुढाना विधायक उमेश मालिक, खतौली विधायक विक्रम सैनी, जिलाध्यक्ष रूपेंद्र सैनी ने आज खतौली में हुए रेल हादसे के बाद घटनास्थल एवं अस्पताल पहुंचकर राहत बचाव कार्य एवम चिकित्सीय सेवाओं का जायजा लिया। सभी नेताओं ने सबसे पहले पोस्टमार्टम हाऊस पहंुचकर सभी 20 मृतकों का पोस्टमार्टम कराया तथा उनके शवों को उनके गंतव्य स्थल तक पहुंचने के लिए सरकार की और से एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई एवं जो यात्राी मामूली रूप से घायल थे, उन सबको उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचने के लिए रोडवेज बसों की भी व्यवस्था की। नेताओं ने घटनास्थल पर पहुंचकर रेलवे के अधिकारियों से ट्रैक का कार्य जल्दी से जल्दी समाप्त करने एवं पुनः रेल मार्ग सुचारू रूप से ट्रेनों के आवागमन के लिए खोलने को भी कहा। इस अवसर पर डीआरएम एसएन सिंह ने रेल मार्ग रात 10 बजे तक सुचारू रूप से चलने का आश्वासन दिया है। इसके बाद सभी नेतागण मुजफ्फरनगर मेडिकल बेगरजपुर एवं जिला अस्पताल मुजफ्फरनगर पहुंचे, वहाँ पहुँचकर सभी ने घायल रेल यात्रियों से उनके स्वास्थ्य एवं उपचार के बारे में जानकारी प्राप्त की। डॉक्टर्स ने बताया कि अभी धीरे-धीरे सभी घायल यात्रियों को उनके परिजन उन्हें अपने साथ ले जा रहे है। इस अवसर पर भीमसैन कंसल, अनिल टीटू द्वारा रात को एवं दिनभर की गई भोजन एवम जलपान की व्यवस्था के लिये, समर्पित युवा संगठन समर्पित युवा संगठन के अमित पटपटिया एवं सदस्यों द्वारा रक्तदान परमधाम, धन-धन सतगुरु, मुस्लिम संगठनों, मुस्लिम सामाजिक संस्थाओं, हिन्दू युवा वाहिनी, खतौली नगर एवम ग्रमीणवासियों, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, भाजपा कार्यकर्ता, पुलिस एवम प्रशासन, चिकित्सकों एवम अन्य सभी सहयोगी का तुरंत सेवाओं के लिए आभार व्यक्त किया। डा. संजीव बालियान एवं कपिलदेव ने कहा कि दुर्घटना होने दुर्भाग्य पूर्ण है, किंतु घटना होने के बाद जिस प्रकार सभी लोगों ने त्वरित सेवायें उपलब्ध कराकर घायलों को अस्पताल तथा मृतकों को पोस्टमार्टम हाऊस पहंुचाया तथा बिछड़े हुए लोगों को सांत्वना देकर उनके घर पहुंचने की व्यवस्था की व वास्तव में प्रशंसनीय है एवम सामाजिक समरसता को एक सूत्र में बांधनें के लिए अपने आप में एक बड़ा उदाहरण है। डा. संजीव बालियान, कपिल देव अग्रवाल एवम रूपेंद्र सैनी, मुजफ्फरनगर विधनसभा के हादसें में मौत शिकार जटमुझेड़ा से प्रमोद, इंद्रा कालोनी से रामपाल शर्मा एवम रामपुरी से विनीत मित्तल के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी।

Share it
Top