ठेकेदारी की रंजिश के कारण गौरव की हत्या की आशंका

ठेकेदारी की रंजिश के कारण गौरव की हत्या की आशंका

मुजफ्फरनगर। शहर कोतवाली क्षेत्र के गांव पीनना निवासी गौरव मलिक की बुढाना मोड पर देर सायं की गई हत्या के मामले में कई बिन्दुओं पर पुलिस जांच में जुट गई है। हत्या का एक कारण जिला पंचायत की ठेकेदारी की रंजिश को भी माना जा रहा है। मृतक गौरव मलिक भी जिला पंचायत का ठेेकेदार था, जिस कारण पुलिस रंजिशन हत्या होना मान रही है। पुलिस ने हत्यारोपियों की तलाश में कई स्थानों पर दबिश भी दी, लेकिन अभी तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। शहर कोतवाली क्षेत्रा के अन्तर्गत बुढाना मोड पर आज देर शाम एक युवक की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। जानलेवा हमले के बाद गम्भीर रूप से घायल युवक को जिला चिकित्सालय ले जाया गया, जहां पर पुलिस ने घायल युवक के बारे में जानकारी की। पता चला कि वह गांव पीनना निवासी गौरव मलिक पुत्र ऋषिपाल सिंह है, जो जिला पंचायत का ठेकेदार है। घटना के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने भारी पफोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। प्राप्त जानकारी के मुताबिक गांव पीनना निवासी गौरव पुत्रा ऋषिपाल आज शाम किसी काम से बुढाना मोड की ओर गाडी द्वारा गया था। इसी बीच कुछ बदमाशों ने उसे निशाना बनाकर गोलियां चलानी शुरु कर दी। ताबडतोड गोलियां चलने से पूरे क्षेत्रा में सनसनी फैल गई। गोलियां लगने के कारण बुरी तरह जख्मी गौरव लहूलुहान हो गया। खुलेआम दहशत फैलाने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। घायल गौरव को तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पाकर शहर कोतवाल संजीव कुमार शर्मा व एसआई समयपाल अत्राी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। बताया जा रहा है कि मृतक गौरव मलिक जिला पंचायत में ठेकेदार था और ठेके को लेकर उसका विवाद होने की चर्चाएं हैं। पुलिस अधीक्षक नगर ओमवीर सिंह ने भी अस्पताल पहुंचकर घटना के संबंध में जानकारी ली। पुलिस ने मृतक गौरव मलिक के परिजनों से बंद कमरे में बात की और हत्यारोपियों के बारे में भी जानकारी ली। परिजनों ने उन लोगों के नाम बता दिये, जिन पर उन्हें शक था। इसके बाद शहर कोतवाल संजीव शर्मा के नेतृत्व में पुलिस ने कई स्थानों पर दबिश दी, लेकिन कोई सपफलता नहीं मिल सकी।

Share it
Top