खाद्यान्न वितरण में अनियमितता नहीं होगी बर्दाश्तः डीएसओ

खाद्यान्न वितरण में अनियमितता नहीं होगी बर्दाश्तः डीएसओ

मुजफ्फरनगर। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न वितरण में गड़बड़ी मिलने पर राशन डीलरों के खिलाफ कार्यवाही की गई है। जिला पूर्ति अधिकारी ध्रुव यादव ने बताया कि तहसील सदर क्षेत्रा में कार्यरत पूर्ति निरीक्षक संजय कुमार एवं डा. दीपांकर शर्मा द्वारा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित उचित दर विक्रेताओं के वितरण कार्य की निगरानी की गयी। अनियमितता पाये जाने पर कठोर कार्यवाही की जा रही है। माह जुलाई में राजकुमार उचित दर विक्रेता पीपलशाह का कोटा निलम्बित किया गया। नदीम ग्राम शेरनगर का कोटा निरस्त करते हुए पांच हजार रुपये प्रतिभूति जब्त की गयी। अरविन्द उचित दर विक्रेता ग्राम सोहंजनी जाटान द्वारा अवैध रूप से चावल की कालाबाजारी करने के कारण इनके विरुद्ध एफआईआर दर्ज करायी गयी। डीएसओ श्री यादव ने कहा कि खाद्यान्न वितरण में अनियमितता किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जायेगी। वर्तमान माह में नितिन बधाई कलां और अरविंद सोहंजनी तगान की दुकानों को निलम्बित किया जा चुका है। राजेंद्र कुमार ग्राम बुढीना कलां का कोटा पांच हजार रुपये जुर्माने के साथ निरस्त किया गया है। उन्होंने बताया कि कुल तीन दुकानों को निलम्बित, दो दुकानों को निरस्त करते हुए एक एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही दस हजार रुपये जुर्माना वसूल किया गया है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत सार्वजनिक वितरण प्रणाली में खाद्यान्न वितरण बायोमैट्रिक प्रणाली के तहत किया जा रहा है। ऐसे में मुखिया के अलावा राशन कार्ड में दर्ज पात्रा गृहस्थी के सभी सदस्यों के बायोमैट्रिक डाटा लिये जा रहे हैं, ताकि परिवार का कोई भी सदस्य खाद्यान्न प्राप्त कर सके। इसके लिए पात्रा गृहस्थी के सदस्य अपने आधार कार्ड की छायाप्रति राशन डीलर को दे सकते हैं या जनवाणी केंद्रों पर जाकर फीड करा सकते हैं।

Share it
Top