समयबद्ध कार्य न करने पर होगी कार्यवाहीः सीडीओ...विकास भवन सभागार में फसली ऋण योजना के सम्बन्ध में बैंक समन्वयकों की ली बैठक

समयबद्ध कार्य न करने पर होगी कार्यवाहीः सीडीओ...विकास भवन सभागार में फसली ऋण योजना के सम्बन्ध में बैंक समन्वयकों की ली बैठक

मुजफ्फरनगर। मुख्य विकास अधिकारी अंकित कुमार अग्र्रवाल ने बताया कि फसली ऋण मोचन योजना के अन्तर्गत बैंकों के पास उपलब्ध डाटा से कृषकों के अर्ह एवं अनर्ह के कार्य की समीक्षा में पाया गया कि इलाहाबाद बैंक, आन्ध्रा बैंक, बैंक ऑफ इण्डिया, केनरा बैंक, सैन्ट्रल बैंक ऑफ इण्डिया, डिस्ट्रिक्ट को-आपरेटिव बैंक, देना बैंक, आईडीबीआई बैंक, इण्डियन बैंक, ओबीसी बैंक, पीएनबी, सर्व यूपी ग्रामीण बैंक, यूको बैंक एवं यूनियन बैंक ऑफ इण्डियन बैंक द्वारा कृषकों के अर्ह एवं अनर्ह का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देश दिये कि उन्हें प्राप्त सूची में से अर्ह एवं अनर्ह के कार्य की प्रगति धीमी है। उन्होंने कहा अपरान्ह 1 बजे तक कार्य पूर्ण कर अवगत कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि यदि किसी बैंक द्वारा कार्य ढंग से पूर्ण नहीं किया जाता है, तो कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।
मुख्य विकास अधिकारी आज यहां विकास भवन सभागार में फसली ऋण योजना के सम्बन्ध में बैंक समन्वयकों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने भारतीय स्टेट बैंक एवं पंजाब एण्ड सिंध बैंक की कृषकों की अर्ह एवं अनर्ह की प्रगति कम होने पर जिला कृषि अधिकारी एवं उप कृषि निदेशक को निर्देश दिये कि बैंकों की समस्त शाखाओं के प्रबन्धकों से दूरभाष पर वार्ता कर सूचना एकत्रित करें। उन्होंने कहा कि समस्त जिला बैंक समन्वयक एक बार पुनः डाटा का निरीक्षण कर लें, यदि किसी प्रकार की कमी है, तो उसके विषय में जिला स्तरीय समिति को अवगत करायें। उन्होंने कहा कि डाटा पूर्ण रूप से सही है, तो समस्त शाखाओं के प्रबन्धक से यह प्रमाण पत्रा प्राप्त करे कि उनके द्वारा डाटा में अर्ह एवं अनर्ह का कार्य सही प्रकार से किया गया है। मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि पात्रा मृतक कृषकों के वारिस फसली ऋण मोचन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अपने वारिसान प्रमाण पत्र सहित अन्य सभी प्रमाण पत्रा सम्बन्धित बैंक शाखाओं में उपलब्ध कराये, जिससे उन्हें योजना का लाभ मिल सकें। मुख्य विकास अधिकारी ने समस्त बैंक समन्वयकों को निर्देश दिये कि उनके बैंक डाटा में अर्ह एवं अनर्ह किये गये कृषकों में से अनर्ह किये गये कृषकों का कारण भी अंकित करें कि किन कारणवश उन्हें अनर्ह किया गया है। उन्होंने बैंक समन्वयकों को यह भी निर्देश दिये कि अपनी सूची के अनुसार आधार कार्ड एकत्रित करने का कार्य पूर्ण कराये। उन्होंने डीसी, सहकारी बैंकों को निर्देशित किया कि वह अपने डाटा की सूची सहायक निबन्धक सहकारी समितियां एवं जिला गन्ना अधिकारी को उपलब्ध कराये। उन्होंने कहा कि सहायक निबन्धक सहकारी समितियां एवं जिला गन्ना अधिकारी अपनी समितियों का सत्यापन कर सत्यापन रिपोर्ट जिला स्तरीय समिति को उपलब्ध कराये। मुख्य विकास अधिकारी ने बैंक ऑफ बडौदा, एचडीएचसी, आईसीआईसीआई, एक्सिस बैंक, विजया बैंक, पंजाब एण्ड सिन्ध बैंक के समन्वयकांे द्वारा बैठक में उपस्थित न होने पर उनके मुख्यालय को पत्र लिखे जाने के निर्देश उप कृषि निदेशक को दिये। बैठक में उप निदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, सभी बैंको में जिला समन्वयक एवं जिला स्तरीय समिति के सदस्यगण भी उपस्थित रहे।

Share it
Top