जिले में चोटी कटने का सिलिसिला जारी...पुरबालियान व बुढाना में दो महिलाओं की चोटी कटी, हडकम्प मचा

जिले में चोटी कटने का सिलिसिला जारी...पुरबालियान व बुढाना में दो महिलाओं की चोटी कटी, हडकम्प मचा

मंसूरपुर। क्षेत्र के गांव पुरबालियान में एक व्यक्ति के यहां कटी चोटी को लेकर ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। धीरे-धीरे काफी संख्या में ग्रामीण उक्त व्यक्ति के मकान पर जा पहुंचे। अधिक संख्या में ग्रामीणों को देख कर युवती बेहोश हो गई। मीडिया के पहुंचने पर मकान मालिक युवती के कटे बाल नहीं दिखा पाए और ना ही युवती से मिलने दिया गया। कुछ ग्रामीणों का कहना है कि यह महज एक अफवाह है। अफवाह फैला कर लोगों को भ्रमित किया जा रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के गांव पुरबालियान निवासी शाहनवाज की 17 वर्षीय पुत्री मंगलवार कि दोपहर करीब तीन बजे नमाज पढ़कर जैसे ही वह चारपाई पर बैठी तो अचानक ही उसके सर में दर्द हुआ। दर्द होने पर युवती ने अपने सर के ऊपर हाथ फिराया तो हाथ लगते ही सर से कुछ बाल नीचे गिर गए। नीचे गिरे बालों को देखकर युवती बुरी तरह घबरा गई और कुछ देर बाद ही बेहोश हो गई। यह जानकारी पड़ोस वालों को मिलते ही उन्होंने पूरे गांव में इस बात की चर्चा कर दी। सभी ग्रामीण शाहनवाज के घर की ओर दौड़ पड़े। मौके पर शाहनवाज नहीं था। बताया गया है कि शाहनवाज अपनी रिश्तेदारी में गया हुआ है। घर पर युवती का भाई मौजूद था। उसे मुश्किल से अपने गेट का दरवाजा बंद करना पड़ा, तब जाकर ग्रामीण वापिस अपने घरों को लौटे।
मीडिया को जब इस बात की जानकारी हुई तो वह शाहनवाज के घर पहुंचे। परिजनों से बात कर मामले की जानकारी ली गई। जब युवती के भाई से बाल दिखाने के लिए कहा गया तो इस बात पर वह शकपका गया। पहले तो कहा कि बाल कब्रिस्तान में दबा दिए गए हैं। बाद में कहा कि पता नहीं कहां पर रख दिये है। जब युवती से बात करने के लिए कहा गया तो उसने कहा कि युवती बेहोश पड़ी है। वह किसी से बात नहीं कर सकती। बाद में ग्रामीणों से जब इस बारे में जानकारी ली गई तो उन्होंने कहा कि यह सब महज अफवाह है। इन्हीं झूठी अफवाहों से लोगों को भ्रमित किया जा रहा है। थाना प्रभारी केपीएस चाहल ने बताया कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है। अगर ऐसी कोई झूठी अफवाह फैला रहा है तो जांच कराकर सख्त कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
बुढ़ाना। महिलाओं की चोटी कटने का सिलसिला बढ़ता जा रहा है। क्षेत्र के गांव कुरथल, विज्ञाना व सफीपुर पट्टी में तीन महिलाओं के चोटी कटने की घटना सामने आई थी। गांव विज्ञाना में दूसरी बार मंगलवार को खाना खाने के बाद दोपहर को कमरे में सो रही महिला की चोटी कट गई। बेहोश महिला को सीएचसी पर भर्ती कराया गया है।
कोतवाली क्षेत्र के गांव विज्ञाना निवासी नदीम की पत्नि सोनिजा (30) मंगलवार को दोपहर का खाना खाने के बाद कार्य निपटने पर छत पर अपने कमरे में सोने लगी। घर के आंगन में उसकी सास इलियासी व बालक अयान थे। अयान के रोने के कारण सास इलियासी बालक को सोनिजा के पास छोडने गई तो सोनिजा बेसुध मिली। उसके पास की उसकी कटी चोटी देखकर सास इलियासी चीख पड़ी। चीख सुनकर परिवार के अन्य सदस्य भी कमरे में पहुंच गये। थोड़ी देर में ही महिला की चोटी कटने व बेहोश होने की सूचना पूरे गांव में फैल गई। नफीस के घर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। परिजनों ने बताया कि घर में किसी को आते जाते हुए भी नहीं देखा गया। उन्होंने किसी अज्ञात साया होने की बात कही। बेहोश महिला को एम्बूलेंस से सीएचसी पर भर्ती कराया गया है। गांव में आने-जाने वालों का तांता लगा है। घटना के बाद से परिवार के लोग घबराये हुए है। पुलिस को कोई सूचना नहीं दी गई है।
खतौली। कथित चुडैल के गर्भवती महिला व एक युवती की चोटी काटे जाने से महिलाओं में दहशत फैल गयी। जबकि पुलिस ने दोनों मामले संदिग्ध बताकर अंधविश्वास को बढ़ावा देने वाली इस प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील नागरिकों से की है। मंगलवार को ग्राम तिगाई निवासी गर्भवती महिला साक्षी पत्नी दीपक अपनी सास कांतीदेवी के साथ घर में लैटी हुई थी। बताया गया कि साक्षी ने सास से सिर में भयंकर दर्द होने की शिकायत के बाद अपने बालों में हाथ फेरा तो चुटिया के आखरी सिरे के कुछ सेंटीमीटर बाल कटे हुए देख वो चीख मारकर बेहोश हो गयी। होश आने पर साक्षी ने किसी अनजान साये के अपने ऊपर मडराने की जानकारी परिजनों को दी। सास कांतीदेवी के शोर मचाने पर घर के बाहर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित होने के बाद भूत-पिशाच की कहानियां शुरू हो गयी। इसके अलावा कस्बे के मौहल्ला सर्राफान निवासी कल्लू की 15 वर्षीय पुत्री शबनम की चुटिया आज कथित चुडैल के काटने से विशेषकर महिलाओं में दहशत फैल गयी। दूसरी और चर्चा है कि कथित चुडैल ने अभी तक किसी भी महिला की चुटिया जड़ से नहीं उखाड़ी है, बल्कि चुटिया की केवल फुंगल काटकर ही दहशत फैलाई है। चुटिया काटे जाने की सूचना पर कोतवाली पुलिस ने गाँव तिगाई व मौहल्ला सर्राफान में पहुँचकर मामले की जानकारी ली तथा दोनों घटनाओं को संदिग्ध बताकर भीड़ लगाकर अफवाह फैलाने की कोशिश कर रहे लोगों को हडकाकर भगाया। कथित चुडैल के महिलाओं की चोटी काटे जाने की वास्तविकता को लेकर नगर व दैहात क्षेत्रों में रहने वालों में तरह-तरह की चर्चाये व्याप्त है। कुछ इसे भूत पिशाच की कारस्तानी मानकर दहशत में है, जबकि कुछ इसे कोरी बकवास मानकर चिलत्तर बाजी बता रहे है। दूसरी और कोतवाल प्रीतम पाल सिंह ने अंधविश्वास को बढ़ावा देने वाली अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील नागरिकों से की है।

Share it
Top