आतंकी की गिरफ्तारी से मचा जिले में हडकम्प...यूपी एटीएस ने चरथावल क्षेत्र के गांव कुटेसरा से दबोचा, महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद

आतंकी की गिरफ्तारी से मचा जिले में हडकम्प...यूपी एटीएस ने चरथावल क्षेत्र के गांव कुटेसरा से दबोचा, महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश आतंकवादी निरोधक दस्त (एटीएस) ने आज सुबह चरथावल क्षेत्र के ग्राम कुटेसरा में छापा मारकर एक बांग्लादेशी आतंकी को गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से फर्जी आधारकार्ड, पहचान-पत्र, पासपोर्ट व अन्य आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद हुआ है। बताया जा रहा है कि वह लगातार अपने ठिकाने बदलता रहता है और एक माह पूर्व ही कुटेसरा में रहने के लिये आया था, जबकि इससे पहले वह देवबन्द में रहकर आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रहा था। यूपी एटीएस की टीम मुजफ्फरनगर जनपद में पिछले 6 दिनों से गुपचुप तरीके से आतंकी को तलाश रही थी, जिसकी जानकारी पुलिस को भी नहीं लगी। आज आतंकी की गिरफ्तारी से जनपद में हडकम्प मच गया।
जानकारी के अनुसार एटीएस की टीम ने आज सुबह करीब 5 बजे चरथावल क्षेत्र के गांव कुटेसरा से अब्दुल्ला अलमामून नामक बांग्लादेशी आतंकी को गिरफ्तार किया है। उसके पास से फर्जी आईडी और पासपोर्ट तथा कुछ मुहर भी बरामद की गई है। वह बांग्लादेश के भूमिशाही जिले के हुसनपुर गांव का रहने वाला है। एटीएस के आईजी असीम अरूण ने बताया कि यह आतंकी वर्ष 2011 से देवबन्द में छिपकर रह रहा था। वह यहां फर्जी आईडी बनाने का काम करता था। उन्होंने बताया कि इसका नेटवर्क मुजफ्फरनगर के आसपास के क्षेत्र में फैला था। इस सिलसिले में एटीएस ने कुछ लोगों को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया है। पकडे गये आतंकी से पूछताछ की जा रही है। एटीएस सूत्रों के अनुसार बांग्लादेशी आतंकी अब्दुल्ला अल मामून को कुटेसरा से एक मदरसे से गिरफ्तार किया गया। मुजफ्फरनगर से पहले यह फर्जी आईडी व आधारकार्ड से सहारनपुर जनपद के कस्बा देवबन्द में 2011 से रह रहा था, जब वहां एटीएस की गतिविधि बढी, तो उसने अपना ठिकाना बदलते हुए मुजफ्फरनगर के गांव कुटेसरा में जगह बना ली। गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में आतंकी अब्दुल्ला ने बताया कि बांग्लादेश से आने के बाद वह अपने साथी फैजान के पास देवबन्द गया था, जिसने उसका फर्जी आधारकार्ड व आईडी बनवाई। इसके बाद उसने सहारनपुर में रहने की योजना बनाई। उसने खुद के आतंकी होने की बात कबूलते हुए बताया कि वह बांग्लादेश में सक्रिय आतंकी संगठन अंसारूल्ला बांग्ला टीम से जुडा हुआ है, जहां से वह फरार होने के बाद भारत पहुंचा और पिछले 6 साल से उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर छिपा रहा। एटीएस के आईजी असीम अरूण ने बताया कि एटीएस यूपी के एडिशनल एसपी ब्रजेश श्रीवास्तव के नेतृत्व में छापा मारा गया, जिसमें आतंकी अब्दुल्ला की गिरफ्रतारी हुई। आतंकी अब्दुल्ला अल मामून पुत्र रहीसुद्दीन अहमद निवासी गांव हुसनपुर थाना हुसनपुर जिला भूमिशाही बांग्लादेश की गिरफ्रतारी के बाद अग्रिम कार्यवाही करायी जा रही है। उसके पास से एटीएस ने स्वयं का फर्जी आधारकार्ड, पासपोर्ट, चार मोहरे जो ग्राम विकास अधिकारी, तहसीलदार व निर्वाचन अधिकारी की है और 13 आईडी भी मिली है। एटीएस की टीम ने पुलिस के सहयोग से आतंकी अब्दुल्ला से पूछताछ के बाद उसकी निशानदेही पर चार अन्य साथियों को भी हिरासत में ले रखा है, जिनसे पूछताछ की जा रही है।

Share it
Top