गाजियाबाद से बरामद हुई छात्रा रिद्धिमा...देर रात्रि में महिला थाने लेकर पहुंची पुलिस, पूछताछ जारी, लोगों का जमावडा लगा

गाजियाबाद से बरामद हुई छात्रा रिद्धिमा...देर रात्रि में महिला थाने लेकर पहुंची पुलिस, पूछताछ जारी, लोगों का जमावडा लगा

मुजफ्फरनगर। पिछले कई दिनों से पुलिस का सिरदर्द बनी कोतवाली क्षेत्र के मौहल्ला कृष्णापुरी निवासी छात्रा रिद्धिमा मिश्रा आज गाजियाबाद के कविनगर क्षेत्र से बरामद हो गयी। देर रात्रि में पुलिस उसे महिला थाने लेकर पहुंची, जहां उससे पूछताछ जारी थी। इस दौरान लोगों का जमावडा महिला थाने पर लगा रहा। छात्रा की बरामदगी को लेकर ही धरना देकर परिजनों ने हंगामा किया था। पुलिस ने आश्वस्त किया था कि छात्रा को शीघ्र ही बरामद कर लिया जायेगा।
शहर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत मौहल्ला कृष्णापुरी से लापता छात्रा रिद्धिमा मिश्रा की पांच दिन बाद भी बरामदगी न होने से गुस्साये ब्राह्मण समाज ने आज दिन में शिवचौक पर धरना दिया। धरने के दौरान जाम लगाने के कारण पुलिस से जमकर झडप भी हुई। पीडित परिवार के साथ ही विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता भी धरनास्थल पर समर्थन देने पहुंचे।
जानकारी के अनुसार कृष्णापुरी निवासी इंटर की छात्रा रिद्धिमा मिश्रा विगत 29 जुलाई को अपने घर से स्कूटी पर सवार होकर अपनी सहेली से मिलने लद्धावाला में गयी थी, लेकिन वापस घर नहीं लौटी। काफी तलाश करने के बाद भी जब उसका कोई पता नहीं चला, तो उसके पिता भोलानाथ मिश्रा ने शहर कोतवाली में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी थी, लेकिन पांच दिन बाद भी न तो कोई आरोपी गिरफ्तार हुआ और न ही लापता छात्रा बरामद हुई। इसी कारण पूरा परिवार आहत था । पीडित परिवार के साथ आज सैंकडों की संख्या में ब्राह्मण समाज के लोग शिवचौक पर पहुंचे और धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। शिवसेना सहित कई संगठनों के कार्यकर्ता भी धरने को समर्थन देने पहुंचे।
धरनास्थल पर सिटी मजिस्ट्रेट कुमार भूपेन्द्र सिंह व सीओ सिटी हरीश भदौरिया ने पहुंचकर पीडितों की बात सुनी और उन्हें कार्यवाही का आश्वासन दिया, लेकिन वे पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर काफी आक्रोशित थे। गुस्साये युवकों ने शिवचौक पर जाम लगाने का प्रयास किया, जिस कारण उनकी पुलिस से झडप भी हुई। धरने व जाम के दौरान दोनों तरफ से आवागमन बाधित हो गया और वाहनों की लम्बी-लम्बी कतारें भी लग गयी। शहर कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामला सम्भालने का प्रयास किया और रूट डायवर्ट कर दिया। इसी बीच पुलिस अधिकारियों को भी धरने पर ही बैठा लिया गया। काफी देर तक हंगामा चलता रहा। पीडित परिवार का कहना था कि यदि 24 घंटे में छात्रा रिद्धामा की बरामदगी न हुई, तो एसएसपी आवास पर अनिश्चितकालीन धरना दिया जायेगा। इसी बीच सीओ सिटी हरीश भदौरिया ने धरनारत लोगों को बताया कि छात्रा की लोकेशन गाजियाबाद में मिली है और बरामदगी के लिये पुलिस टीम भेज दी गयी है। इसके बाद आन्दोलनकारियों का कुछ गुस्सा शान्त हुआ और उन्होंने पुलिस अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर धरना समाप्त कर दिया। धरनास्थल पर ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष सुबोध शर्मा, कथाव्यास पं. श्यामशंकर मिश्रा, पं. ओमकार दत्त शर्मा, ज्योतिषविद् पं. विष्णु शर्मा, पं. रामानुज दुबे, पं. भुवनमिश्रा, पं. ब्रजबिहारी अत्री, वरिष्ठ भाजपा नेता विजय शुक्ला, व्यापारी नेता राकेश त्यागी, बसपा नेता नितिन शर्मा, कृष्णगोपाल मित्तल, विनोद शर्मा, शिवसेना से मनोज सैनी, पं. ब्रजलाल शास्त्री, पं. रामकुमार मिश्रा, पं. कमल डबराल, पं. अनन्तलाल द्विवेदी, पं. करूणा शंकर शुक्ला, पं. कृष्णानन्द मिश्रा, पं. नवनीत मिश्रा, पं. सूरज दूबे, पं. अरूण दूबे, पं. कमलेश, पं. लालता प्रसाद रतूडी, पं. चन्द्रिका दूबे, स. हरजिन्द्र सिंह सरन उर्फ पप्पू सहरावत, पं. गोपालकृष्ण त्रिपाठी, पं. रवि भारद्वाज, विकास अग्रवाल, पं. आनन्द, पंकज शुक्ला, देवेन्द्र चौहान, लोकेश सैनी, वैभव यादव मौजूद रहे।

Share it
Top