मांग पूरी न होने के कारण दूसरे दिन भी जारी रहा भाकियू का धरना

मांग पूरी न होने के कारण दूसरे दिन भी जारी रहा भाकियू का धरना

भोपा। मोरना स्थित राधे ऑयल कम्पनी पैट्रोल पम्प पर घटतौली व गुणवत्ता तथा मानकों को पूरा न करने को लेकर भाकियू का धरना मंगलवार से चल रहा है, जहां सैंकडों भाकियू कार्यकर्ता पैट्रोल पम्प पर ताला जडकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गये हैं। बुधवार को मौके पर पहुंचे तहसील अधिकारियों को बंधक बनाते हुए पैट्रोल पम्प मालिक को जेल भेजने की मांग भाकियू नेताओं ने की तथा आला अधिकारियों को बैरंग लौटा दिया। समाचार लिखे जाने तक भाकियू का धरना जारी था तथा प्रशासनिक अधिकारी भाकियू नेताओं को समझाने का प्रयास कर रहे थे। मामला न सुलझते देख देर रात उपजिलाधिकारी जानसठ ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी व क्षेत्राधिकारी भोपा मौहम्मद रिजवान भाकियू कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचे, जहां पर उन्होंने भाकियू नेताओं से वार्तालाप कर उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया।
थाना भोपा क्षेत्रा के ग्राम मोरना में इण्डियन ऑयल के पैट्रोल पम्प राधे ऑयल कम्पनी पर घटतौली की शिकायत ग्राम ककराला निवासी मनीष ने की थी। मनीष का आरोप था कि पैट्रोल पम्प द्वारा घटतौली व मिलावटखोरी की जा रही है तथा मानकों को भी ताक पर रखा गया है, जिसे लेकर भाकियू के ब्लॉक अध्यक्ष योगेश शर्मा के नेतृत्व में सैंकडों कार्यकर्ता अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गये तथा आला अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग की। मंगलवार पूरी रात किसान नेता धरने को जारी रखते हुए आन्दोलन को धार देने में जुटे रहे। बुधवार दोपहर होते होते ग्रामीण धरने पर जमा हो गये। बुधवार दोपहर धरने पर पहुंचे तहसीलदार जानसठ मनोज कुमार, क्षेत्राीय खाद्य अधिकारी जगवीर सिंह, नगर पूर्ति निरीक्षक रविन्द्र कुमार, क्षेत्राीय पूर्ति निरीक्षक अनिल वर्मा व विधिक माप विज्ञान वरिष्ठ निरीक्षक दीप्ति श्रीवास्तव आदि की टीम ने पैट्रोल पर घटतौली व गुणवत्ता की जांच की, जिसमें घटतौली होना पाया गया तथा गुणवत्ता को लेकर ऑयल सैम्पल भर लिये गये हैं, जिसकी जांच की जायेगी तथा अधिकारियों द्वारा पैट्रोल पम्प पर दस हजार के जुर्माने तथा एक मशीन को बन्द करने का आश्वासन दिया गया, जिस पर भाकियू कार्यकर्ता भडक उठे तथा नारेबाजी करते तहसील अधिकारियों को बंधक बना लिया। इस मौके पर भाकियू के सर्वेन्द्र राठी उपर्फ मिन्टू, ग्राम प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष चन्द्रवीर राठी, देवेन्द्र प्रधान, राहुल, बिट्टू प्रधान, दीवान सिंह, कल्लू ठाकुर, मुकेन्द्र, महकपाल प्रधान, सरदार पलविन्दर, विनय, मोनू चौधरी, सुधीर कुमार, दरयाव आदि सैंकडों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share it
Top