शिक्षामित्रों का जेल भरो आंदोलन स्थगित...सातवें दिन भी जारी रहा शिक्षामित्रों का धरना-प्रदर्शन

शिक्षामित्रों का जेल भरो आंदोलन स्थगित...सातवें दिन भी जारी रहा शिक्षामित्रों का धरना-प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर। संयुक्त शिक्षा मित्र संघर्ष मोर्चा के बैनर तले आंदोलनरत शिक्षामित्रों का अनिश्चितकालीन धरना जिला मुख्यालय पर सातवें दिन भी जारी रहा। आज शिक्षामित्रों ने अपना आक्रोश कलेक्ट्रेट परिसर में धरना-प्रदर्शन करके उतारा। शिक्षामित्रों ने एक राय होकर अपना जेल भरो आंदोलन भी स्थगित कर दिया। आज के धरना-प्रदर्शन में पूर्व राज्यमंत्राी भी शामिल हुए और अपना समर्थन दिया। शिक्षामित्रों का आंदोलन सातवें दिन भी जारी रहा। प्रतिदिन की भांति शिक्षामित्र कलेक्ट्रेट परिसर में एकत्र हुए और अपना धरना-प्रदर्शन शुरू किया। उनके बीच पूर्व राज्यमंत्राी योगराज भी पहंुचे तथा उनके आंदोलन को अपना समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि अपनी मांग मनवाने को एकमात्र हल है दबाव। दबाव बनाकर ही अपना हक पाया जा सकता है। शिक्षामित्रों का नेतृत्व कर रहे मुजीबुर्रहमान ने बताया कि प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक लखनउ में सीएम के साथ चल रही है। प्रांतीय कार्यकारिणी के आह्वान पर ही उन्होंने अपना जेल भरो आंदोलन स्थगित किया है। आगे की रणनीति प्रांतीय कार्यकारिणी के निर्देशन में ही क्रियान्वित की जाएगी। ध्रना-प्रदर्शन करने वालों में यशपाल सिंह, पारूल, विनय कुमार, रजनीश शर्मा, एकता रानी, सुबोध् कुमार, विनोद राणा, खुर्शीद अली, संजय चंदेल, रोहित कोशिक, गीता बालियान, मुकेशपाल, धीरज कुमार, कंवरपाल, रजनीश, निर्मला सैनी, अजीत सिंह, रविंद्र, वीरपाल, जयवीर, धर्मेंद्र, मोनिका रानी, रीमा कौशिक, विनेश कुमार, अनूप कुमार, सुदेश सैनी, मोनिका, गोधर खातून, रूबी, पिंकी, कमलेश, अफसाना, बबीता,अंजू रानी, सुमन, सुध्ीर बालियान, रूबी त्यागी, पंजाब सिंह, सोनिया सैनी, अंजु, अंशु, अनिल, अंजु, मीनाक्षी, कविता, इंद्रपाल, नीरज, आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top