डीआईओएस कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरूद्ध शिक्षकों ने उठायी आवाज

डीआईओएस कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरूद्ध शिक्षकों ने उठायी आवाज

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा वेलफेयर, मुजफ्फरनगर के शिक्षकों के द्वारा सोमवार को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर व्याप्त भ्रष्टाचार व प्रबंध समितियों की हठर्ध्मिता के विरूद्ध एक दिवसीय ध्ररने का आयोजन किया गया। मुख्य रूप से नई पेंशन योजना के संबंध् में संगठन के अध्यक्ष हरकेश सिंह बताया गया कि जनपद मुजफ्फरनगर में इस योजना के तहत 2005 के उपरांत नियुक्त शिक्षक एवं कर्मचारियों का अंश तो वेतन से काटा जा रहा है, लेकिन उनके खातों में यह धन नहीं जा रहा है। पूर्व तथा वर्तमान जिला विद्यालय निरीक्षक से इस संबंध में कई बार लिखकर तथा मौखिक रूप से वार्ता की गयी है, परंतु आज तक इस समस्या समाधन नहीं हो सका है। उन्होंने बताया कि कार्यालय में किसी भी शिक्षक के कार्य समय से निस्तारित नहीं किये जा रहे हैं। समस्त विभागों के लिपिक वर्ग के स्थानांतरण प्रदेश सरकार के आदेशों के अनुपालन में कर दिये गये हैं, लेकिन इस कार्यालय के किसी भी लिपिक का स्थानांतरण नहीं किया गया। जिस कारण वह अपनी मनमर्जी चलाते हैं। किसी भी शिक्षक तथा कर्मचारी का चयन प्रौन्नति वेतनमान तथा पदोन्नति प्रकरण आसानी से निस्तारित नहीं किया जाता है। अंत मंे संगठन के अध्यक्ष हरकेश सिंह द्वारा शिक्षकांे की मांगों के संबंध में मुख्यमंत्री के नाम एक मांगपत्र जिला विद्यालय निरीक्षक मुनेश कुमार के माध्यम से भेजा गया। इस मौके पर विजयपाल सिंह, बिजंेद्र कुमार, अमन कुमार, पप्पू बोकाडिया, सीमाराम सहगल द्वारा भी अपने-अपने विचार रखे गये। ध्ररने पर शमीम सिद्दीकी, तजम्मुल हुसैन, अशोक कुमार बबलू कुमार, राकेश कुमार, राजकुमार, ओम कुमार, सुनील सागर, सूर्यनाथ यादव, राजसिंह, डा. मीनाक्षी, पवन कुमार श्रीमती गीता काकरान, प्रेमचंद गौतम, त्रिलोकचंद, चंद्रपाल, दिनेश कुमार, रामनयन, राकेश कुमार, कमलकांत, रामगोपाल, लवकुश, पन्नालाल, बिजेंद्र, विनोद कुमार, हंस कुमार, आवेश कुमार, इंद्रपाल, जितेंद्र प्रसाद, अमित कुमार, बबित कुमार, विक्रम कुमार, सतेंद्र कुमार, आदि उपस्थित रहे। ध्ररने की अध्यक्षता लल्लन सिंह ने की तथा संचालन अमन कुमार द्वारा किया गया।

Share it
Top