अभी भी हरिनगर प्रधान फायरिंग मामले में पुलिस के हाथ खाली, नहीं पकडे आरोपी

अभी भी हरिनगर प्रधान फायरिंग मामले में पुलिस के हाथ खाली, नहीं पकडे आरोपी

मुजफ्फरनगर। पांच दिन पूर्व पुरकाजी थानाक्षेत्र के गांव हरिनगर के ग्राम प्रधान नेपाल सिंह के घर पर एक बाईक पर सवार दो बदमाशांें ने जान से मारने की नियत से फायरिंग की थी। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल की और सीसी फुटेज से आरोपियों को पहचानने का प्रयास किया, लेकिन पुरकाजी पुलिस के हाथ खाली है। पांच दिन पूर्व नेपाल सिंह प्रधान सायं के समय घर पर नहीं थे। उनकी गैर मौजूदगी में एक बाईक पर सवार होकर दो बदमाशों ने चार राउंड़ फायरिंग की। गोली दीवार व चारपाई लगी। गनीमत रही कि उस समय वहां पर परिवार का कोई भी सदस्य व प्रधान नहीं बैठे थे। वरना बड़ी घटना हो सकती थी। घर पर फायरिंग की सूचना पर ग्राम प्रधान मय पुलिस टीम के साथ घर पर पहुंचे और पुलिस ने जांच पड़ताल की। पुलिस को ग्राम प्रधान के घर से एक धमकी भरा पत्र भी मिला, जिसके आधार पर पुलिस मामले की छानबीन में जुटी रही, लेकिन पुलिस के हाथ अभी खाली है। पुलिस ने सीसी फुटेज भी कुछ सुराग लेने की कोशिश की, परन्तु हाथ में कुछ नहीं लगा। सीसी फुटेज में प्रधान के घर पर पफायरिंग कर वापस लौटते हुए बाईक सवार पुरकाजी की ओर आते दिखाई दिए है। सवाल यह उठता है जब चारों ओर पुलिस की 100 डायल व स्वयं भी चारों गश्त की खानापूर्ति करती है, तभी तो हमलावार युवक बेखौफ होकर कैसे पुरकाजी की सीमा से हथियार लेकर निकल गए। कस्बे में आधा दर्जन बाईक चोरी हो चुकी है। बेखौफ चोर ट्रेक्टर चुरा लेते है, दो पत्रकारों की घर से बाईक चोरी हो जाती है, लेकिन पुरकाजी पुलिस अभी एक भी चोर को पकड़ने में सफल नहीं हो पाई है। वहीं पुरकाजी पुलिस खाना पूर्ति में लग जाती है। कस्बे में बीस दिन पहले जीटी रोड़ से एक किसान की बोगी चोरी कर ली गई। मामला यह भी सीसी पफुटेज में साफ दिखाई दे रहा था। पुरकाजी पुलिस इन बोगी चोरों को भी पता नहीं लगा सकी और किसान पुलिस के चक्कर काटकर थक कर घर बैठ गया। सोचने का विषय यह है कि जब पुरकाजी पुलिस को सीसी फुटेज भी मिल गए और हमलावर भागते हुए दिखाई दे रहे है, बोगी चोरी भी पफुटेज में आए, तो पुरकाजी पुलिस इन आरोपियों का पता लगाने में नाकाम क्यों है?

Share it
Top