ससुरालियों को फंसाने के चक्कर में कर दी अपनी बहन की हत्या

ससुरालियों को फंसाने के चक्कर में कर दी अपनी बहन की हत्या

मुजफ्पफरनगर। अपनी पत्नी से चल रहे विवाद के कारण एक युवक ने अपने ससुरालियों को फंसाने के चक्कर में अपनी बहन की गोली मारकर हत्या कर दी और ससुराल पक्ष की नामजदगी करा दी। पुलिस जांच में मामला साफ हो गया, जिस कारण शाहपुर पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जानकारी के अनुसार शाहपुर थानाक्षेत्र के गांव पलडी निवासी सनव्वर पुत्र सैद अली ने शाहपुर थाने पर विगत 22 जुलाई को तहरीर देकर बताया कि उसकी बहन गुलिस्ता की हत्या 21-22 जुलाई की रात्रि में गोली मारकर कर दी गयी थी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया और मुकदमा दर्ज कर लिया। सनव्वर द्वारा दी गई तहरीर में बताया गया कि उसकी बहन की हत्या उसके भाई गुलफाम के साले हाशिम व उसके चाचा दाउद निवासीगण हुसैनपुर कलां थाना बुढाना ने गोली मारकर की है। शाहपुर थाना प्रभारी बीपी सिंह ने मुकदमा दर्ज कर जांच पडताल शुरू कर दी और सर्विलांस टीम का भी सहारा लिया गया। विवेचना से पता चला कि अभियुक्त गुलपफाम जो मृतका का सगा भाई/वादी सनव्वर का भी सगा भाई है, उसने ही घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने मृतका युवती गुलिस्ता के सगे भाई गुलफाम को गिरफ्तार कर उससे कडाई से पूछताछ की, तो उसने अपनी बहन की गोली मारकर हत्या करने की बात कबूल कर ली। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर उसी के घर से हत्या में प्रयुक्त 315 बोर का तमंचा मय कारतूस खोखा बरामद कर लिया। इस संबंध में आज पुलिस लाईन में पत्राकारों के समक्ष बहन के हत्यारोपी गुलफाम को पेश करते हुए एसपी देहात अजय सहदेव ने बताया कि आरोपी ने अपने ससुरालियों को फंसाने के चक्कर में अपनी सगी बहन की गोली मारकर हत्या की है। गुलफाम ने अपने साले हासिम व उसके चाचा दाउफद निवासी हुसैनपुर कलां पर अपनी बहन की हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। अभियुक्त गुलफाम को गिरफ्रतार करने वाली टीम में शाहपुर थाना प्रभारी बीपी सिंह, वरिष्ठ उपनिरीक्षक राजेन्द्र प्रसाद वशिष्ठ, का. सुभाष व रजनेश शामिल रहे।

Share it
Top