मुठभेड में बदमाशों की गोली से दो सिपाही घायल

मुठभेड में बदमाशों की गोली से दो सिपाही घायल

खतौली। मुखबिर की सटीक सूचना पर कोतवाली पुलिस ने पांच हजारी बदमाश को मुठभेड में गिरफ्तार करने का दावा किया है, जबकि गैंग लीडर पचास हजारी बदमाश पुलिस को चकमा देकर पफरार हो गया। बदमाशों द्वारा चलाई गयी गोली से कोतवाली के दो सिपाही घायल होने के अलावा क्राइम ब्रान्च की गाडी क्षतिग्रस्त हो गयी। बावजूद इसके मुठभेड़ की पुलिसिया कहानी में अनेक झोल नजर आ रहे है। कोतवाल प्रीतम पाल सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बीती रात मेरठ से मुजफ्फरनगर की तरफ वारदात करने के इरादे से आ रहे बाईक सवार दो बदमाशों के आने की मुखबिर द्वारा दी गयी सूचना पर भंगेला चैक पोस्ट पर वाहन चैकिंग किये जाने के दौरान अपाचे बाईक सवार दो संदिग्ध युवकों को रुकने का इशारा करने पर वो पुलिस पर फायर कर खतौली की तरफ फरार हो गये। वायरलैस पर बदमाशों के सम्बन्ध में सूचना देने पर सामने से आयी क्राइम ब्रांच व स्वाट टीम की गाडी को आता देख बदमाश बाईक मोडकर गाँव टबिट्टा की और पफरार होने लगे, किन्तु टबिट्टा मोड़ पर पुलिस द्वारा किये गये पफायर के बाद बदमाश बाईक सडक पर छोडकर खेत में घुसकर भागने लगे। पुलिस ने मुठभेड़ में घायल एक बदमाश को दबोच लिया, जबकि उसका साथी पफरार हो गया। कोतवाल प्रीतम पाल सिंह ने बताया कि पकड़ा गया बदमाश पांच हजारी रवि पुत्रा सुरेश निवासी मौहल्ला भगवानपुर दौराला है तथा पफरार बदमाश पचास हजारी मोनू पुत्रा कालीचरण निवासी गांव अचरौडा थाना परतापुर मेरठ है। बदमाश मोनू को रवि ने वर्ष 2015 में मेरठ पुलिस की अभिरक्षा से पफरार होने में मदद की थी। पकड़े गये बदमाश रवि ने थाना रतनपुरी व जानसठ क्षेत्रा में भारत पफाइनेंस कम्पनी के कर्मचारियों के साथ लूट की वारदातों को अंजाम देने की बात स्वीकार करने के अलावा बताया कि उसकी अगली योजना लूट के मामले में मेरठ जैल में बन्द बदमाश अरविन्द पुत्रा रामबीर कश्यप निवासी मौहल्ला ब्रहमपुरी दौराला को 28 जुलाई को दिल्ली पेशी पर जाने के दोरान मेरठ के सिटी स्टेशन से पुलिस अभिरक्षा से पफरार कराने की थी। बताया गया कि मुठभेड़ में कोतवाली के आरक्षी विजय कुमार व जितेन्द्र के घायल होने के अलावा बदमाशों द्वारा चलायी गयी गोली क्राइम ब्रांच की गाडी में घुस गयी, जिससे क्राइम ब्रांच की टीम बाल-बाल बची। पुलिस ने पकड़े गये इनामी बदमाश रवि के कब्जे से एक तमंचा 315 बोर, 4 जिंदा कारतूस व 5 खोके, एक सपफेद रंग की अपाची बाईक के अलावा भारत पफाइनेंस कम्पनी के कर्मचारियों से लूटे गये 25 हजार रुपये बरामद करने का दावा किया है। पुलिस ने पैर में गोली लगने से घायल हुए बदमाश रवि का मेडिकल कराकर उसे जेल रवाना कर दिया। मुठभेड़ में कोतवाली के दो आरक्षी किस प्रकार घायल हुए तथा बदमाशों के पफरार होने की सूचना वायरलैस सैट पर फ्रलैश होने के कुछ ही मिनटों में क्राइम ब्रान्च व स्वाट टीम के मौके पर पहुंच जाने के अलावा लूट के लिये जा रहे बदमाश की जेब से पूर्व में लूटे गये 25 हजार बरामद होने के कुछ सवाल ऐसे है कि पुलिस की बदमाशों से हुई मुठभेड़ में कई झोल नजर आ रहे है।

Share it
Top