फाईनेन्सर की हत्या कर शव गंगनहर में फेंका

फाईनेन्सर की हत्या कर शव गंगनहर में फेंका

खतौली। जिसका अंदेशा था वही हुआ। बीते छः दिनों से लापता चल रहे फाइनेंसर की हत्या कर शव गंगनहर में फेंके जाने का खुलासा होने पर परिजनों में कोहराम मच गया है। पुलिस गोताखोरों की सहायता से गंगनहर में शव की तलाश करने में जुटी हुई है। बीती 21 जुलाई की शाम को गाँव पाल निवासी फाइनेंसर गौरव नागर पुत्र चन्द्रपाल संदिग्ध हालत में लापता हो गया था। 22 जुलाई को परिजनों ने थाने में तहरीर देकर गौरव की गुमशुदगी दर्ज करायी थी। गौरव की बरामदगी को कोतवाली पुलिस के हाथ पैर न हिलते देख परिजनों ने भाकियू भानू के कार्यकर्ताओं के साथ मंगलवार को थाने पर हंगामा किया था। इसके बाद हरकत में आयी पुलिस ने गाँव सराय निवासी तीन युवकों को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की, तो उन्होंने गौरव की 21 जुलाई को ही हत्या कर शव बाईक सहित गंगनहर में फेंक देने की बात स्वीकार कर ली। गौरव की हत्या होने की पुष्टि होने से परिजनों के सकते में आने के साथ ही पुलिस में हडकम्प मच गया मचा हुआ है। आनन-फानन पुलिस हत्यारोपी युवकों को गंगनहर पटरी पर लेकर पहुंची तथा इनकी निशानदेही पर मृतक गौरव की बाईक नहर से बरामद कर ली। गौरव की हत्या होने की खबर फैलते ही बड़ी संख्या में लोग नहर पटरी पर एकत्रित हो गये। पुलिस गोताखोरों की सहायता से शव को गंगनहर में तलाश कर रही है। इसके अलावा परिजन भी भोला की झाल तक अपने स्तर से गौरव के शव की तलाश में लगे हुए है। चर्चा है कि गौरव की हत्या रुपयो के लेनदेन के विवाद में हुई है, जबकि पुलिस ने एक गाँव की कुछ युवतियों को भी पूछताछ के लिये हिरासत में ले रखा है। चर्चा है कि हिरासत में ली गयी एक युवती ब्यूटी पार्लर संचालिका भी है।

Share it
Top