भोकरहेडी में युवक की गोली मारकर हत्या...गैर समुदाय की युवती से प्रेमविवाह करने से नाराज हमलावरों ने गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतारा

भोकरहेडी में युवक की गोली मारकर हत्या...गैर समुदाय की युवती से प्रेमविवाह करने से नाराज हमलावरों ने गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतारा

भोपा। बेटे के जन्मदिन के अवसर पर केक लेकर जा रहे पिता की बदमाशों ने दिनदहाडे निर्मम हत्या कर क्षेत्र में सनसनी व दहशत फैला दी। हत्या की सूचना पर हजारों की भीड इकट्ठा होकर उग्र हो गई। परिजनों ने हत्यारों की तुरन्त गिरफ्रतारी को लेकर मोरना लक्सर मार्ग पर घंटों जाम लगाया। घटनास्थल पर भारी पुलिस बल के साथ पहंुचे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनन्तदेव तिवारी ने हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन देकर गुस्साये ग्रामीणांे को शांत किया तथा क्षेत्र के गणमान्य व्यक्तियों की सहायता से शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कर मैडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया। मामला दो सम्प्रदाय होने के कारण तनाव के चलते पुलिस की अपराध शाखा व खुफिया विभाग ने मौके पर जाकर घटना की जानकारी प्राप्त की। मामले की संवदेनशीलता को देखते हुए आरोपी के घर के साथ-साथ नगर में पीएसी को तैनात कर आला अधिकारी कस्बे में कैम्प किए हुए हैं। वहीं घटना के बाद नगर के बाजार में सन्नाटा पसर गया। घटना को लेकर कस्बे में तरह-तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं। परिजनों ने तहरीर देकर चार को नामजद करते हुए तुरन्त गिरफ्तारी की मांग की है।
थाना भोपा क्षेत्र के कस्बा भोकरहेडी के मौहल्ला पठानान निवासी 24 वर्षीय नसीम पुत्र तसलीम के एक वर्षीय बेटे अब्दुल्ला का सोमवार को जन्मदिन था, जिसकी तैयारियों को लेकर नसीम की 22 वर्षीय पत्नी आएशा ने अपने पति को जन्मदिन पार्टी का सामान लेने के लिए नसीम को बाजार भेजा था। प्रथम जन्मदिन को अच्छी तरह मनाने को लेकर पिता कोई कोर कसर नहीं छोडना चाहता था। नगर के बाजार से सजावट का सामान खरीदकर वह केक लेने के लिए दोस्त की मोटरसाइकिल द्वारा चचेरे भाई कादर खान पुत्र मतलूब के साथ मोरना गया था। केक खरीद कर वापस लौट रहा नसीम जैसे ही कस्बे की सरकारी ट्यूबवैल के सामने घात लगाये बदमाशों ने नसीम की बाईक के सामने साइकिल को गिरा दिया। बाईक रूकते ही घात लगाये आधा दर्जन बदमाशों ने तंमचे लहराते हुए धारदार हथियार और डंडों से नसीम के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसी बीच बाईक पर नसीम के साथ सवार कादर खान मौका पाकर नजदीक ईंट के भट्टे के मकान में जाकर छिप गया। इसी बीच बदमाशों ने नसीम को गोली मार दी। फायर की आवाज सुनकर इंटर कॉलेज के ग्राउंड में क्रिकेट खेल रहे युवक घटनास्थल की ओर दौड पडे। युवकों को अपनी तरफ आता देख बदमाश जंगल के रास्ते भागने लगे, जिस पर युवकों ने काफी दूर तक बदमाशों का पीछा किया, लेकिन वे गन्ने के खेतों में घुसकर गायब हो गये। हत्या के चश्मदीद कादर खान ने बताया कि हत्यारे कस्बे के ही रहने वाले हैं तथा दूसरे सम्प्रदाय से जुडे हैं और मृतक नसीम के ससुराल पक्ष से हैं। नसीम की हत्या की सूचना मिलने पर परिजन और ग्रामीणों की घटनास्थल पर हजारों की भीड जमा हो गयी। हत्या की सूचना पर पहुंचे मोरना चौकी प्रभारी राजेश यादव की टीम जैसे ही शव को उठाने लगी, तो ग्रामीणों ने पुलिस के साथ धक्कामुक्की कर शव को पुलिस से छीन लिया और उग्र होकर हंगामा काटने लगे। वहीं ग्रामीण व परिजनों ने योजना बनाकर नसीम की हत्या करने और कुछ लोगों पर उनको संरक्षण देने का आरोप लगाया। मामला दो सम्प्रदाय से जुडा होने के कारण विभिन्न थानों व आला अधिकारियों की टीम घटनास्थल की ओर दौड पडी। मौके पर पहुंचे भोपा क्षेत्राधिकारी मौ. रिजवान व थानाध्यक्ष भोपा विजय सिंह ने मामले की गम्भीरता को समझते हुए आला अधिकारियों को घटना की जानकारी देकर तुरन्त घटनास्थल पर पहुंचने की गुहार लगाई, जिसके चलते एसपी देहात अजय सहदेव, उपजिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, थाना ककरौली, जानसठ, रामराज, नई मण्डी, मीरापुर, पुरकाजी, सिखेडा आदि के साथ भारी पीएसी बल, डायल 100, क्राइम ब्रांच के सुनील शर्मा, एलआईयू के राजेश शर्मा, धर्मेन्द्र चौहान, धर्मपाल, नरेश, राजीव कुमार सिंह आदि घटनास्थल पर पहुंचे और घटना की जानकारी प्राप्त की। बेरहमी से की गई हत्या को लेकर मौके पर पहुंचे एसएसपी अनन्त देव तिवारी ने परिजनों व ग्रामीणों को समझाने का प्रयास करने पर कहासुनी होने लगी, जिसके चलते भारी शोर शराबा हो गया। मामला बढता देख आला अधिकारियों ने अपने कदम पीछे खींच लिए और क्षेत्र के गणमान्य लोगों को गुस्साए परिजनों को समझाने के लिए भेजा घंटों की कडी मशक्कत के बाद परिजनों ने आरोपियों की तुरन्त गिरफ्तारी होने के आश्वासन पर जाम खोल दिया, जिस पर पुलिस ने शव को कब्जे में कर मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया। वहीं मृतक के चाचा नजर मौहम्मद उर्फ राजू पुत्र महफूज ने तहरीर देकर बताया कि कस्बे के प्रदीप पुत्र राजेश, राजेश पुत्र रामसिंह, सोनू पुत्र राकेश व नीटू पुत्र भूषण ने रंजिशन नसीम की गोली मारकर बेरहमी से हत्या कर दी। पुलिस ने मुकदमा कायम कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिये हैं।

Share it
Top