नसीम हत्याकांडः घंटों हुआ हंगामा, तनाव व्याप्त

नसीम हत्याकांडः घंटों हुआ हंगामा, तनाव व्याप्त

मोरना। युवती के प्रेमविवाह से नाराज परिजनों ने युवक की गोली मारकर हत्या की। मामला अलग-अलग सम्प्रदाय का होने के कारण कस्बे में तनाव व्याप्त हो गया। घटना से गुस्साये ग्रामीणों ने मार्ग पर जाम लगाकर हंगामा किया। एसएसपी कई थानों की पुलिस पफोर्स के साथ मौके पर पहुंचे, तो ग्रामीणों ने शव नहीं उठाने दिया। तहेरे भाई ने मृतक की पत्नी के पिता भाईयों सहित पांच के खिलाफ मुकदमा कायम कराया। कस्बे में पुलिस बल तैनात किया। भोपा थाना क्षेत्र के कस्बा भोकरहेडी निवासी 30 वर्षीय नसीम पुत्र तस्लीम व उसका तहेरा भाई राजू उर्फ नजर मौहम्मद मोरना से बाईक पर सवार होकर बच्चे के जन्मदिन का केक लेकर जा रहे थे कि छछरौली भोकरहेड़ी के बीच सरकारी टयूबवैल के पास पहले से ही खडे़ पांच लोगों ने सड़क पर साईकिल गिराकर उन्हें रोक लिया और गोली मारकर नसीम की हत्या कर दी, जबकि राजू ने भागकर जान बचाई। मामले की सूचना पर हजारों लोगों की भीड़ मौके पर पहुंच गई और कार्यवाही की मांग को लेकर जाम लगा हंगामा करना शुरू कर दिया। सूचना पर एसएसपी अनन्तदेव तिवारी, एसपी देहात अजय सहदेव, एसड़ीएम जानसठ ज्ञानप्रकाश त्रिपाठी, सीओ मौहम्मद रिजवान भोपा, ककरौली, मीरापुर, रामराज, जानसठ, सिखेड़ा नई मण्ड़ी की पुलिस एवं पीएसी बल के साथ मौके पर पहुंचे और कार्यवाही का आश्वासन देकर शव उठाने का प्रयास किया, जिस पर ग्रामीणों ने खून का बदला खून का शोर मचाकर शव नहीं उठने दिया। मौके पर पहुंचे चेयरमैन ज्ञानेन्द्र कुमार, मौलाना नजर नयांगांव, प्रधानपति शहजाद अंसारी के समझाने पर करीब दो घन्टे बाद ग्रामीणों ने शव उठाने दिया। तनाव के मददेनजर कस्बे में पुलिस बल तैनात कर दिया गया और आरोपी पक्ष के मकान पर पुलिस तैनात की गई है। तहेरे भाई राजू ने मुकदमा कायम कराते हुए आरोप लगाया कि कस्बे की नई बस्ती निवासी प्रदीप, सोनू उसके पिता राजेश, नीटू व एक अज्ञात ने हत्या की है और आरोपियों ने फायरिंग करते हुए जान से मारने की धमकी दी। आरोपी गत दो वर्ष पहले पिंकी द्वारा नसीम से शादी करने के कारण रंजिश रखते है।

Share it
Share it
Share it
Top