मुजफ्फरनगर:शादी करके लौटा प्रेमी युगल पुलिस अभिरक्षा में गांव पहुंचा

मुजफ्फरनगर:शादी करके लौटा प्रेमी युगल पुलिस अभिरक्षा में गांव पहुंचा

भोपा। दो माह पहले घर से फरार प्रेमी युगल ने शादी रचाते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से सुरक्षा की गुहार लगायी, जिस पर पुलिस ने नवविवाहित प्रेमी युगल को पुलिस अभिरक्षा में गांव पहुंचाया है, जहां पिता ने विवाहित जोडे को आशीर्वाद प्रदान किया।
आधुनिक शिक्षा ने समाज को स्वतंत्र विचारों के साथ जीने का नया आयाम दिया है, जिसके चलते रूढिवादी विचारों को समाप्त करने में सहायता मिली है। विचारों की स्वतंत्रता को प्रशासन ने भौतिक सुरक्षा प्रदान की है, जिसके चलते प्रेमरूपी वृक्ष को आनन्दयुक्त वातावरण मिल पाया है। थाना व ग्राम ककरौली निवासी 24 वर्षीय माहिर रजा पुत्र नवाब हैदर ने बताया कि उसने गांव की ही 22 वर्षीय युवती सकीना से 2 वर्ष पहले मुलाकात के बाद अपने प्यार का प्रस्ताव सकीना के सामने रखा, जिसे सकीना ने खुशी-खुशी स्वीकार कर लिया। अभी माहिर रजा व सकीना का प्रेम परवान चढ ही रहा था कि तभी रूढिवादी लोगों ने सकीना के परिजनों को इस रिश्ते को लेकर भडका शुरू कर दिया। दुश्मन बने रूढीवादी लोगों ने सकीना को माहिर से कोसों दूर कर दिया तथा सकीना को उसकी नानी के घर सम्भल क्षेत्र के गांव सिरसी भेज दिया गया। विरह में जी रहे प्रेमियों ने 2 माह पहले परिवार से दूर चले जाने की योजना बनाई तथा गत दो जौलाई को निकाह कर कोर्ट में शादी को दर्ज कराया तथा मुजफ्फरनगर आकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से सुरक्षा की गुहार लगायी। जिस पर थाना ककरौली पुलिस ने नवदम्पत्ति को सुरक्षा प्रदान करते हुए पुलिस अभिरक्षा में घर पहुंचा, जहां माहिर रजा के परिवार ने दोनों का जोरदार स्वागत किया। बिना दान दहेज के इस प्रेम विवाह से आधुनिक व स्वतंत्र विचारों को बल मिला है। माहिर व सकीना ने युवाओं से दान दहेज का विरोध करने की बात कही है तथा सादगी व बिना खर्च शादी को प्रोत्साहन देने की अपील युवाओं से की तथा शादी में खर्च होने वाली मोटी रकम से उच्च शिक्षा प्राप्त करने का निवेदन किया है।

Share it
Top