विकास कार्यों में कोताही पर नपेगे अफसरः मण्डलायुक्त

विकास कार्यों में कोताही पर नपेगे अफसरः मण्डलायुक्त

मुजफ्फरनगर। मण्डलायुक्त दीपक अग्रवाल ने मण्डल की स्वास्थ्य सेवाओं को चुस्त-दुरूस्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जिला अस्पतालों की स्थिति में गुणात्मक सुधर लाया जाये। अस्पतालों में गदंगी और कर्मियों के व्यवहार में बदलाव की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जो आशा कार्यकत्री काम ठीक प्रकार से नहीं कर रही हैं, उन्हें तत्काल पदमुक्त कर दिया जाये। उन्होंने कहा कि फसली ऋण मोचन के लिए किसानों का आधार कार्ड तत्काल लिंक करा दें तथा जिन किसानों के पास आधार कार्ड नहीं हैं, उनके लिए विशेष कैंप का आयोजन कर आधार कार्ड बनवाये जायें। उन्होंने कहा कि आईजीआरएस पोर्टल प्राप्त शिकायतों का निस्तारण प्राथमिकता के आधर गुणवत्तापरक ढंग से करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि निस्तारण के बाद शिकायतकर्ता से संतुष्टि प्रमाण पत्रा भी प्राप्त करें।
श्री अग्रवाल आज यहां कलेक्ट्रेट सभागार में मण्डलीय विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान निर्देश दे रहे थे। उन्होंने अपर निदेशक स्वास्थ्य को जमकर फटकार लगाते हुए मण्डल की स्वास्थ्य सेवाओं में गुणात्मक सुधर लाने के निर्देश दिये। उन्होंने ओपीडी सेवाओं को पूरी क्षमता के साथ संचालित करने के निर्देश दिये। उन्होंने सहारनपुर जिला अस्पताल का दृष्टांत देते हुए कहा कि अस्पताल में सभी सुविध व संसाध्न उपलब्ध् होने के बावजूद भी स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ आम आदमी को नहीं मिल पा रहा है। चार हड्डी विशेषज्ञ चिकित्सक होने के बावजूद भी मरीजों का इलाज नहीं हो पा रहा है। अस्पताल से बिना इलाज के मरीजों को वापिस किया जा रहा है, जो अत्यंत सोचनीय स्थिति है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के संस्थागत प्रसवों में वृद्धि करने के लिए कार्ययोजना को अमलीजामा पहनायें। मण्डलायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि लघु एवं सीमांत किसानों का फसली )ण मोचन करने के लिए आवश्यक तैयारी पूरी कर लें। उन्होंने कहा कि योजना में पारदर्शिता बरतते हुए जिला व तहसील मुख्यालय पर तत्काल कंट्रोल रूम की स्थापना की जाये। उन्होंने तहसील व मुख्यालय स्तर पर कंट्रोल रूम का दूरभाष नम्बर का व्यापक प्रचार-प्रसार करायें तथा किसानों में जागरूकता के लिए होर्डिग्स एवं बैनर लगवाये। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि गड्ढ़ामुक्त अभियान में और अध्कि तेजी लाई जाये। उन्होंने कहा कि पूर्व में जो सड़क चिन्हित नहीं हैं, उनकों चिन्हांकन कर गड्ढामुक्त कराया जाए। उन्होंने कांवड़ मार्ग की ध्ीमी गति पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने अध्किारियों को निर्देश दिये कांवड मार्ग पर श्र(ालुओं को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांवड मार्ग के लिए कार्ययोजना को मंजूरी हो चुकी है। शीघ्र ही इस सम्बन्ध् में राशि जारी कर दी जायेगी। उन्होंने कहा कि कार्ययोजना को पूरा करने के लिए निर्माण कार्यों में मानकों व गुणवत्ता का ध्यान रखा जायें। श्री अग्रवाल ने उप गन्ना आयुक्त को निर्देश दिये कि वे गन्ना बकाये का भुगतान न करने वाली चीनी मिलों के विरू एफआईआर के साथ आरसी जारी करायें। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों के हितों से किसी भी स्तर पर समझौता नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि थानाभवन, भैसाना, बामनौली तथा शामली चीनी मिलों द्वारा किसानों के बकाया भुगतान में अनदेखी की जा रही है। इन चीनी मिलों के विरू( तत्काल ठोस एवं प्रभावी कार्यवाही की जाए। उन्होंने उप श्रम आयुक्त को निर्देश दिये कि सभी कार्यदायी संस्थाओं में पंजीकृत ठेकेदारों के अध्ीन कार्य करने वाले मजदूरों का पंजीकरण प्राथमिकता के आधर पर कराया जाये। उन्होंने जिला पंचायतराज अधिकारी मुजफ्फरनगर को चेतावनी देते हुए समस्त कार्य समयबद्ध ढंग से पूरे कराने के निर्देश दिये। बैठक में अपर आयुक्त डा. आभा गुप्ता, उदई राम, जिलाधिकारी मुजफ्फरनगर जीएस प्रियदर्शी, शामली इन्द्र विक्रम सिंह, मुख्य विकास अधिकारी सहारनपुर संजीव रंजन, मुजफ्फरनगर अंकित कुमार अग्रवाल, अपर जिला मजिस्ट्रेट सहारनपुर एसके दूबे सहित समस्त मण्डलीय स्तर अधिकारी मौजूद रहेे।

Share it
Share it
Share it
Top