भट्टे पर काम करने के नाम पर ठेकेदारों से की लाखों की ठगी

भट्टे पर काम करने के नाम पर  ठेकेदारों से की लाखों की ठगी

जानसठ। थाना सिखेड़ा क्षेत्र में मजदूरों ने भट्टे पर काम करने के नाम पर ठेकेदारों से 4,20,000 रुपये ठगी की है। इस सम्बंध् में पुलिस को तहरीर देते हुए ठेकेदार पाल्ला पुत्र मेहरचंद ने बताया कि जैदी ब्रिक्स फील्ड निराना भट्टे पर मजदूरों की जरूरत थी, जिसमें भट्टा मालिक से ठेकेदार ने मजदूरों को लाने के लिए चार लाख बीस हजार रुपए लिए थे। इसके बाद ठेकेदारों ने मजदूरों को भट्टे पर लाने के लिए विनोद उर्फ सुभारत पुत्र सोमवीर निवासी शामली से संपर्क किया। सोमवीर ठेकेदार के बुलावे पर विनोद जैदी ब्रिक्स फील्ड भट्टे पर पहुंचा। भट्टे पर ही ठेकेदार पाल्ला ने विनोद उर्फ सुभारत व इसकी साथ में आए रईस को बतौर बयाना 94000 हजार रुपए दिए, जिससे विनोद उर्फ सुभारत व रईस ने मजदूरों को लेकर निराना जैदी ब्रिक्स फील्ड भट्टेे पर पहुंचने की बात कही, तो वहीं ठकेदार पाला ने रजत, बासिद, फिरोज, अनिश, मेहराज, रईस, परवेज, शाहबाज ,शादाब को 326000 रुपए दिए, ताकि वह भी काम पर जल्दी से पहुंच सकें ठेकेदार ने बताया कि मजदूरों ने शादी बीमारी अन्य खर्च बताकर पैसे लिए, लेकिन पैसे ले जाने के बाद इनमें से कोई भी भट्टेे पर काम के लिए नहीं पहुंचा। ठेकेदार ने बताया की जब कोई भी काम पर नहीं पहुंचा तो मजदूरों की तलाश की, लेकिन रात में जैसे ही ठगी करने वालों का पता लगा, तो इसकी सूचना सिखेड़ा पुलिस को दी गई पूरी घटना। पुलिस ने ठेकेदार को साथ लेकर बताई जगह पर दबिश देकर दो लोगों को गिरफ्तार किया, जिनके नाम विनोद उर्फ सोमवीर निवासी शामली व रईस पुत्र मजीद निवासी कूकड़ा है। वहीं सूत्रों की माने तो इन मजदूरों का एक गेंग है, जो मजदूरी के नाम पर लाखों रुपए हड़प कर पफरार हो जाते है और फिर काम पर नहीं लौटते। ब्रिक्स फील्ड निराना भट्टे के मालिक जिया ने बताया कि एक साल पहले कुछ मजदूर उनके भट्टेे पर आए और 4,50,000 रुपए लेकर फरार हो गए थे, लेकिन काम पर आज तक नहीं आए। इस सम्बंध् में सिखेड़ा थाना प्रभारी अजय कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है पूछताछ चल रही है। जांच कर आगे की कार्यवाही की जायेगी।

Share it
Top