बदमाशों ने चालक की हत्या कर की लूटपाट... तीन दिन से पुलिस कस्टडी में खडी कैंटर में भरी खाली क्रेट के नीचे दबा मिला शव

खतौली। बीते तीन दिनों से पुलिस कस्टडी में खड़े कैन्टर में भरी खाली क्रेट में दबा चालक का शव मिलने से कोतवाली पुलिस में हड़कम्प मच गया। बदमाशों द्वारा चालक को लूटकर हत्या किये जाने की थ्योरी पता चलने पर पुलिस ने पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। बीती 15 नवम्बर को कोतवाली पुलिस ने जानसठ तिराहे पर लावारिस खड़े टमाटर की खाली क्रेट से भरे कैन्टर को कब्जे में लेकर मंडी चौकी ले जाकर खड़ा कर दिया था। रविवार प्रात: बन्दरों के झुण्ड ने कैन्टर में भरी क्रेट को उलट पुलट कर दिया। बन्दरों के झुण्ड को भगाने कैन्टर के पास पहुँचे मंडी चौकी के सिपाही की क्रेट के नीचे लाश पड़ी देख सिटी-पिटी गुम हो गयी। सूचना मिलने पर सीओ आशीष प्रताप सिंह व कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी ने मंडी चौकी पहुँच मामले की जानकारी ली। जेब से मिले ड्राइविंग लाइसेंस से मृतक की पहचान जावेद पुत्र नसरुल्लाह निवासी गाँव नीली खेड़ी थाना ढिंढोली जनपद अमरोहा के रूप में हुई। पुलिस के खबर देने पर थाने पहुंचे, मृतक के परिजनों ने बताया मृतक जावेद अपने कैन्टर को स्वयं ही चलाता था। 15 नवम्बर को जावेद कैन्टर में अमरोहा मंडी से टमाटर भरकर मुजफ्फरनगर मंडी के एक आढ़ती के यहाँ लेकर आया था। इसके बाद से जावेद का मोबाइल फोन स्विच ऑफ आ रहा था। परिजनों द्वारा मुजफ्फरनगर के आढ़ती से पता करने पर पता चला 15 नवम्बर की दोपहर जावेद टमाटरों के एक लाख व अपना भाड़ा लेकर वापस लौट गया था। कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी ने बताया जावेद के गले मे रस्सी के निशान से इसकी हत्या गला दबाकर किये जाने का अनुमान है। जानसठ तिराहे पर जिस जगह कैन्टर लावारिस खड़ा मिला, इसके आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खँगालकर बदमाशों की तलाश में टीम को लगाया गया है। जल्द ही वारदात का खुलासा किया जायेगा। परिजन की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करके पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

Share it
Top