वाहन चालकों को यातायात के नियमों का पालन करने का पाठ पढ़ाया

वाहन चालकों को यातायात के नियमों का पालन करने का पाठ पढ़ाया

खतौली। श्रीराम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा फैसला सुनाये जाने के बाद माहौल बिल्कुल शान्त रहने से रिलैक्स मूड में आये पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने जानसठ तिराहे पर लगे सदभावना कैम्प में गाँधी गिरी से काम लेकर वाहन चालकों को यातायात के नियमों का पालन करने का पाठ पढ़ाया। अयोध्या प्रकरण में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा फैसला देने से पहले तनाव में चल रहे पुलिस प्रशासनिक अधिकारी फैसले के बाद माहौल एकदम शान्त रहने से बैटर फील करने के साथ ही रिलैक्स मुड़ में आ गये है। सोमवार को सीओ आशीष प्रताप सिंह, कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी ने जानसठ तिराहे पर बने सदभावना कैम्प में डेरा जमाकर वाहन चालकों को यातायात के नियमों का पालन करने की हिदायत की।

बिना हेलमेट पहने दुपहिया वाहन चालकों को कैम्प में रोककर सीओ आशीष प्रताप सिंह व कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी ने चेहरे पर गुस्सा लाये बगैर हंसकर मुस्कराकर इन्हें बताया जीवन अमूल्य है। बिना हेलमेट यात्रा करना जीवन को खतरे में डालना है। हादसे के बाद केवल एक जान नहीं बल्कि पूरा परिवार प्रभावित होता है। यातायात नियमों का पालन करने से ही सुरक्षित यात्रा सम्भव है। सीओ और कोतवाल की नसीहत का दुपहिया वाहन चालकों पर जमकर असर हुआ। दुपहिया वाहन चालकों ने कैम्प से ही हेलमेट खरीदकर पहने। कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी के हाथों हैलमेट पहनकर दुपहिया वाहन चालकों ने भविष्य में सुरक्षित यात्रा करने हेतु यातायात के नियमों का पालन करने का संकल्प लिया। कैम्प में एसएसआई मुकेश सौलंकी, कस्बा इन्चार्ज धर्मवीर कर्दम, भूड़ चौकी इन्चार्ज रविन्द्र यादव आदि पुलिसकर्मियों के अलावा समाजसेवी पवन अग्रवाल, भाजपा नेता मदन छाबड़ा, सुरेश आर्य, वरदान प्रजापति, असजद सैफी सभासद, नईम मलिक आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top