चार परीक्षा केंद्रों को किया तीन साल को डिबार ... खतौली, पचैंडा व सिकन्दरपुर के कालेज पहले ही हैं ब्लैकलिस्ट

चार परीक्षा केंद्रों को किया तीन साल को डिबार ... खतौली, पचैंडा व सिकन्दरपुर के कालेज पहले ही हैं ब्लैकलिस्ट

मुजफ्फरनगर। जनपद में बोर्ड परीक्षा 2020 की तैयारियां लगातार जारी है, इसी के मद्देनजर जनपद से मुख्यालय पर भेजी गई संभावित परीक्षा केन्दों की सूची को देखते हुए इनमें से 4 परीक्षा केन्द्रों को डिबार कर दिया गया है। इन पर तीन साल का प्रतिबंद्ध लगा दिया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय से जारी विज्ञप्ति के अनुसार मुख्यालय को बोर्ड परीक्षा 2020 को लेकर सूची भेजी गई थी, जिसमें पिछले साल के रिकार्ड के आधर पर इस साल चार विद्यालयों को डिबार कर दिया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक गजेन्द्र कुमार ने बताया कि गत वर्ष जनता इंटर कालेज बाढ में सामूहिक नकल का मामला सामने आने पर उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया गया था। इसी के आधर पर इसे तीन साल के लिये डिबार कर दिया गया है। चौ. तिलकराम इंटर कालेज खतौली को 2019 से लेकर 2021 तक डिबार कर दिया गया है। इसे परीक्षा समिति की 2018 में हुई बैठक में तीन साल के लिये डिबार करने का निर्णय लिया गया। आर्य कन्या इंटर कालेज सिकन्दरपुर गडवाला को 2019 से लेकर 2021 तक अर्थात तीन साल के लिये डिबार किया गया। इसे 12 मार्च 2018 द्वारा डिबार की संस्तुति पर आयोजित परीक्षा समिति की बैठक जो कि 21 जून 2018 में हुई थी, में तीन साल तक के लिये डिबार करने का निर्णय लिया गया। वहीं दूसरी ओर जनता इंटर कालेज मुस्तफाबाद पचैंडा इंटर कालेज को 2019 से लेकर 2021 अर्थात तीन साल के लिये डिबार किया गया है। वर्ष 2018 में इस कालेज में इंटर के जीव विज्ञान द्वितीय का प्रश्न पत्र लिफाफा निर्धारित तिथि से पूर्व खोलने के कारण इसे तीन तक के लिये डिबार करने की संस्तुति की गई थी। गौरतलब है कि 2019 में नकल माफिया द्वारा बाढ में परीक्षाकेन्द्र लगाया गया था जहां पर एसटीएफ ने सामूहिक नकल का मामला पकड़ा था। हालाकि इस परीक्षा को रद्द करा दिया गया था, लेकिन इसकी भेंट तत्कालीन जिला विद्यालय निरीक्षक प्रवीण कुमार मिश्र व बोर्ड परीक्षा प्रभारी मनीष भाटिया चढ गये थे। डीआईओएस का तबादला कर दिया गया था और मनीष भाटिया को निलम्बित करते हुए डायट में सम्बद्ध कर दिया गया था। बाढ परीक्षा केन्द्र में साल 2022 तक कोई भी परीक्षा केन्द्र नहीं रखा जायेगा।

Share it
Top