मुज़फ्फरनगर: कुख्यात बदमाश लुकमान की सम्पत्ति सीज ... रतनपुरी क्षेत्र के गांव भनवाड़ा में दो मंजिला मकान, प्लॉट समेत दस लाख की सम्पत्ति कब्जे में ली

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार सत्ता में आयी है, तब से पुलिस ने गुण्डे-बदमाशों की नाक में दम किया हुआ है। बडे-बडे बदमाशों को मुठभेड में ऊपर भेजने के साथ ही कई बदमाशों को मुठभेड में लंगडा कर जेल की हवा खिलायी जा रही है। कई बदमाश ऐसे है, जो पुलिस को शपथ-पत्र देकर जीवन में कभी भी अपराध न करने की कसम खाकर सरेन्डर कर चुके हैं। पुलिस की कार्यवाही से बदमाशों में खौफ बना हुआ है और वे किसी भी अपराधिक घटना को अंजाम देने से पहले चार बार सोचते हैं। आज भी पुलिस ने कुख्यात बदमाश लुकमान उर्फ लुक्का के खिलाफ कडी कार्यवाही की है और उसकी दस लाख रुपये की सम्पत्ति सीज कर दी गयी है। शातिर बदमाश लुकमान के खिलाफ उत्तरप्रदेश व उत्तराखण्ड में लूट व चोरी के 70 मुकदमें विभिन्न थानों में दर्ज है। लुकमान के खिलाफ की गयी कार्यवाही से बदमाशों में हड़कम्प मचा हुआ है। जानकारी के अनुसार मुजफ्फरनगर पुलिस ने आज एक शातिर लुटेरे व चोर के विरूद्ध बडी कार्यवाही की है। डीएम सेल्वा कुमारी जे. के आदेश पर कुख्यात बदमाश लुकमान की सम्पत्ति सीज की गयी है। थाना रतनपुरी क्षेत्र के गांव भनवाड़ा निवासी कुख्यात बदमाश लुकमान के खिलाफ उत्तरप्रदेश व उत्तराखण्ड के विभिन्न थानों में लगभग 70 मुकदमें लूट व चोरी के दर्ज है। उसने अपराध की दूूनिया से काफी पैसा कमाया और फिर सम्पत्ति खरीद ली। पुलिस ने उसे कई बार गिरफ्तार कर जेल भेजा, लेकिन वह जमानत पर बाहर आकर फिर से अपराध के दलदल में फंस जाता। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. के आदेश पर आज एसपी देहात नेपाल सिंह की मौजूदगी में थाना रतनपुरी पुलिस द्वारा गैंगेस्टर एक्ट की धरा-14 (1) के अन्तर्गत कार्यवाही करते हुए लुकमान की दस लाख रुपये की सम्पत्ति सीज की है। पुलिस ने उसके दो मंजिला मकान को सील कर दिया और प्लॉट पर भी नोटिस बोर्ड लगा दिया है। बताया जा रहा है कि अभियुक्त लुकमान उर्फ लुक्का पुत्र जमशेद निवासी ग्राम भनवाड़ा थाना रतनपुरी के खिलाफ वर्ष 2007 से 2019 तक आईपीसी की विभिन्न धराओं में मुजफ्फरनगर में भी 25 मुकदमें पंजीकृत है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश व उत्तराखण्ड में कुल मिलाकर 70 मुकदमें दर्ज है, जिनमें मुख्य धाराओं में 379 आईपीसी, 25 आम्र्स एक्ट, 2/3 गैंगेस्टर एक्ट, 392 आईपीसी, धरा 420 आईपीसी, धरा 307 आईपीसी में मुकदमें पंजीकृत है। उसके विरूद्ध उत्तर प्रदेश गिरोहबंद एवं समाज विरोधी क्रियाकलाप निवारण अधिनियम 1986 की धरा 14 (1) के तहत कार्यवाही की गयी है और आज पुलिस ने गांव भनवाड़ा मेें एसपी देहात नेपाल सिंह की मौजूदगी में लुकमान उर्फ लुक्का व उसकी पत्नी द्वारा क्रय सम्पत्तियों, जो की बुढाना खादर में है, जिसमें एक प्लॉट, जिस पर दो मंजिला मकान बना हुआ है और एक अन्य अवासीय प्लॉट को कुर्क करते हुए सीज कर दिया गया है। रतनपुरी थानाध्यक्ष एम.पी. सिंह भारी पुलिस फोर्स के साथ इस दौरान मौजूद रहे।

Share it
Top