केंद्र व राज्य सरकारें पराली को गौशालाओं के लिए खरीद केंद्र स्थापित करें: मास्टर विजय सिंह

केंद्र व राज्य सरकारें पराली को गौशालाओं के लिए खरीद केंद्र स्थापित करें: मास्टर विजय सिंह

मुजफ्फरनगर। 24 साल से भ्रष्टाचार को लेकर भू-माफियाओं के विरुद्ध धरने पर बैठे मास्टर विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा व पंजाब के मुख्यमंत्रियों को पत्र भेजकर तीनों प्रदेशों में पराली खरीद केंद्र स्थापित कर गौशालाओं के लिए चारा के रूप में संचित करने का अनुरोध किया। तीनों प्रदेशों के किसान पराली का कुछ भाग चारे के रूप में भी प्रयोग करते हैं तथा शेष को आग लगाकर नष्ट कर देते हैं, जिससे बेहद प्रदूषण फैलता है, जो उत्तर भारत की कई राज्यों की गंभीर समस्या बना हुआ है। आमजन का स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। पाली से हुए प्रदूषण का कोई स्थाई समाधान अभी तक नहीं ढूंढ पाई। आज गोवंश हरियाणा पंजाब और उत्तर प्रदेश में चारे के अभाव में भुखमरी से जूझ रहा है। कई गौशालाओं में गाय चारे के अभाव में मर रही हैं। पराली पशु खूब खाते हैं। उत्तर प्रदेश में सरकारी स्तर पर जो भी गौशाला स्थापित की गई हैं, उन सब में पराली को उचित दाम पर खरीद केंद्र स्थापित करके खरीदना चाहिए। इससे दोनों समस्याओं का निदान हो जाएगा। पहले गोवंश को पर्याप्त चारा मिलेगा तथा पराली जलाने के कारण होने प्रदूषण भी नहीं होगा तथा किसानों को भी आय होगी। सभी किसान पराली जलाने के बजाय उसे कटवा कर बेचना पसंद करेंगे तथा मजदूरों को भी मजदूरी मिलकर आय होगी। मात्रा थोड़े प्रबंधन की आवश्यकता है। चूकी यूपी सरकार हर गौशाला को गोवंश के चारे के नाम पर धन भी दे रही है। उस धन को पराली पर खर्च कर दिया जाए, तो कई समस्याओं का काफी निदान होगा।

Share it
Top