ग्राम प्रधान कसेरवा व सचिव जांच में दोषी, नोटिस जारी

ग्राम प्रधान कसेरवा व सचिव जांच में दोषी, नोटिस जारी

मुजफ्फरनगर। निर्माण कार्यों में अनियमित्ता बरतने के मामले में विकास खण्ड शाहपुर क्षेत्र के गांव कसेरवा की प्रधान श्रीमती नफीसा व ग्राम सचिव दोषी पाये गये है, जिसके चलते उन्हें नोटिस जारी किया गया है। उन्हें 15 दिन के अन्दर जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय में जवाब दाखिल करना है। जावेद पुत्र अब्बास ने ग्राम प्रधान कसेरवा नफीसा के विरूद्ध निर्माण कार्यों में अनियमित्ता बरतने का आरोप लगाया था। उक्त प्रकरण में जांच सहायक श्रमायुक्त एवं अवर अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण विभाग विकास खण्ड बुढाना द्वारा संयुक्तरूप से की गयी थी। इसमें ग्राम प्रधान व सचिव को दोषी पाया गया, जिसमें शराफत/असगर के मकान से खर्शीद के मकान तक इंटरलोकिंग कार्य में 20904 की धनराशि का दुरूपयोग होना पाया। इसमें प्रथम दृष्टिया दोनों को दोषी पाया गया। इसके साथ ही बिंदू संख्या दो में 26562 रुपये का, बिंदू संख्या 3 में 42930 रुपये की धनराशि का, बिंदू संख्या 4 में 82068 की धनराशि का, बिंदू संख्या 5 में 19180 रुपये का, बिंदू संख्या 6 में 48111 रुपये की धनराशि का दुरूपयोग होना पाया गया। इसके साथ ही बिंदू संख्या-7 में नवाब/ हफीजु के मकान से मैन रोड तक अंकन 236438 रुपये की धनराशि व्यय होना दर्शाया गया, जबकि स्थलीय मुल्यांकन के समय उक्त कार्य पर 195200 की धनराशि व्यय होना पाया गया। इस प्रकार 41238 रुपये की धनराशि का दुरूपयोग होना पाया गया। कुल मिलाकर बिंदू संख्या 1 से 7 तक 280994 रुपये की धनराशि का दुरूपयोग होना पाया गया है। इसी के चलते दोषी मानते हुए दोनों को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है, जिसका जवाब 15 दिन में देना है।

Share it
Top