तहसील जानसठ के रजिस्ट्रार कानूनगो कार्यालय में भ्रष्टाचार का बोलबाला... अधिवक्ताओं ने उपजिलाधिकारी को ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की

तहसील जानसठ के रजिस्ट्रार कानूनगो कार्यालय में भ्रष्टाचार का बोलबाला... अधिवक्ताओं ने उपजिलाधिकारी को ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की

जानसठ। तहसील जानसठ के रजिस्ट्रार कानूनगो कार्यालय में बढ़ते भ्रष्टाचार को दृष्टिगत रखते हुए अधिवक्ताओं ने उप जिलाधिकारी जानसठ को ज्ञापन देते हुए कानूनी कार्रवाई की मांग की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार तहसील जानसठ में अधिवक्ताओं ने उप जिलाधिकारी अनुज मलिक को ज्ञापन देकर बताया कि कापफी दिनों से रजिस्ट्रार कानूनगो कार्यालय में पफाइलों का गायब हो जाना, बिना रिश्वत लिए काम ना होना, मूल बैनामे गायब हो जाना, गरीब किसानों का शोषण व निरंकुश रवैया एवं न्यायिक पत्रावलीयो के लगातार गायब हो जाने को लेकर तहसीलदार जानसठ अमित कुमार पर गंभीर आरोप लगाते हुए अति शीघ्र ट्रांसपफर कराने की मांग की है। ज्ञात रहे कि पिछले सप्ताह से भ्रष्टाचार और अनियमितताओं को लेकर अधिवक्ताओं द्वारा तहसीलदार जानसठ अमित कुमार का बहिष्कार चल रहा है जिस के संबंध में अधिवक्ताओं का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी से भी मिला था। बार संघ जानसठ के अध्यक्ष प्रदीप गर्ग एवं सचिव ज्ञानचंद सैनी ने बताया कि रजिस्टर कानूनगो कार्यालय में गरीब किसानों के काम नहीं किए जा रहे हैं और सुविधा शुल्क के नाम पर अवैध रूप से उगाही की जा रही है। बिना रिश्वत के तहसीलदार कार्यालय में कोई काम नहीं हो रहा है। इस प्रकार तहसीलदार जानसठ अमित कुमार पर अधिवक्ताओं ने गंभीर आरोप लगाते हुए उप जिलाधिकारी जानसठ को ज्ञापन देकर कानूनी कार्यवाही करने और तहसीलदार जानसठ अमित कुमार को हटवाने की मांग की है। इस दौरान ज्ञापन देने वालों में बार संघ जानसठ अध्यक्ष प्रदीप गर्ग सचिव ज्ञानचंद सैनी एवं अजादार हुसैन जैदी, दीपेश गुप्ता आदि अधिवक्ता गण मौजूद रहे।

Share it
Top