बोगी की टक्कर से किसान की मौत .... पत्नी के साथ बाईक पर सवार होकर खेत से वापिस आते समय हुआ हादसा

मोरना। सुबह सवेरे जंगल से लौट रहे किसान के भैंसा बोगी ने टक्कर मार दी, जिससे वह गम्भीररूप से घायल हो गया। घायल को जानसठ के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बिना किसी कानूनी कार्रवाई के मृतक का अंतिम संस्कार कर दिया गया। व्यक्ति की अचानक मौत से परिवार में कोहराम मच गया है। थाना ककरौली क्षेत्र के ग्राम ढांसरी निवासी 67 वर्षीय रमेश पुत्र तिरखा औद्योगिक विभाग दिल्ली से सेवानिवृत्त होने के बाद गांव की 15 बीघा भूमि पर खेतीबाडी कर रहा था। रमेश अपनी पत्नी के साथ गांव में रह रहा था। सोमवार की अलसुबह रमेश ट्यूबवैल सिंचाई कर मोटरसाइकिल द्वारा घर वापस लौट रहा था। जैसे ही वह नाला पुल के पास पहुंचा तभी गंगनहर से रेत निकाल कर तेजी से आ रही भैंसा बोगी ने रमेश को चपेट में ले लिया। रमेश को घायल कर भैंसा बोगी चालक मौके से फरार हो गया। राहगीरों ने रमेश को घायल अवस्था में पडे देखा तथा जानसठ सीएचसी पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने रमेश को मृत घोषित कर दिया। रमेश की अचानक मौत से परिवार में मातम छा गया। परिजनों ने गांव स्थित शमशाद घाट में रमेश का अंतिम कर दिया। मृतक अपने पीछे पत्नी तिलकवती, दो पुत्र मनीष व रोहित व चार पुत्रियां ममतेश, अनीता, मीनू रेशू छोड गये हैं। थाना ककरौली प्रभारी निरीक्षक विजय बहादुर सिंह ने बताया कि परिजनों ने पुलिस कार्रवाई से इंकार कर मृतक का अंतिम संस्कार कर दिया है।

Share it
Top