जनपद की महिला नोडल अधिकारियों ने की महिलापरक योजनाओं की समीक्षा

जनपद की महिला नोडल अधिकारियों ने की महिलापरक योजनाओं की समीक्षा

मुजफ्फरनगर। उप्र शासन शासन द्वारा नामित महिला नोडल अधिकारियों श्रीमती इंदु शर्मा आईएफएस, श्रीमती कल्पना सक्सैना आईपीएस व श्रीमती रजनी पीपीएस द्वारा आज कलैक्ट्रेट सभागर में महिलापरक योजनाओं एव महिलाओं के सशक्तिकरण तथा उत्थान के लिए चलाये जा रहे कार्यक्रमों की अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई। नोडल अधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व योजना, वन स्टॉप सैन्टर आदि की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कहा कि महिलाओं को अच्छी चिकित्सा सुविधा हर हाल में उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने 102, 108 एम्बुलेंस की उपलब्धता की स्थिति के बारे में भी जाना। राष्ट्रीय आजीविका मिशन की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. ने बताया कि न्याय पंचायत स्तर पर स्वयं सहायता समूहों का चयन किया गया है। उन्होंने बताया कि जनपद में 452 समूह का गठन किया गया है। जिसमें महिलाओं की भागीदारी है। उन्होंने बताया कि स्वयं सहायता समूहों, जिनमें महिलाएं हैं, उनको आर्थिक रूप से सुदृढ़ करने के उद्देश्य से 20 अक्टूबर से नुमाईश मैदान में सरस मेले का भी आयेाजन किया जा रहा है। जिसमें महिलाओं द्वारा गठित समूहों को अपने-अपने समान के स्टॉल लगाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि पूर्व में स्वयं सहायता समूह द्वारा मनरेगा के अन्तर्गत पौध/नर्सरी भी तैयार कराये गयी थी। परियोजना निदेशक द्वारा अवगत कराया गया नर्सरी से पौधारोपण कराने के लिए गोबर से गमले बनाने का कार्य भी समूहों के माध्यम से किया गया था। उन्होंने बताया कि इन कार्यों से महिलाओं की आर्थिक स्थिति में गुणात्मक सुधार हुआ है। उन्होंने उप्र कौशल विकास मिशन की भी समीक्षा की। उन्होंने वृद्धावस्था एवं विधवा पेंशन का लाभ दिलाये आवेदन पत्र लम्बित न रखे जाये उनका सत्यापन शीघ्रता से किया जाये। नोडल अधिकारी ने पंचायत राज विभाग की समीक्षा की। नगर मजिस्ट्रेट ने बताया कि महिलाओं व उनके परिवार द्वारा शौचालय प्रयोग करते हैं। उन्होंने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि पात्र लाभार्थियों को राशन का वितरण नियमानुसार होना चाहिए। उन्होंने बाल विकास एवं पुष्टाहार की समीक्षा के दौरान निर्देश दिये कि बच्चों व महिलाओं को पुष्टाहार आयरन की गोली व टीकाकरण आदि समय से दिया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने बेसिक शिक्षा विभाग, माध्यमिक शिक्षा विभाग, कौशल विकास मिशन, उघोग, राजस्व, जिला पूर्ति विभाग व महिला समाख्या से समबन्धित समीक्षा की। नोडल अधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी अधिकारी केन्द्र सरकार एवं प्रदेश सरकार की संचालित सभी योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति तक पहुंचाना सुनिश्चित करें। उन्होंने छात्रवृति और पेंशन योजनओं की भी समीक्षा की और साथ ही महिला हेल्प लाईन की जानकारी भी प्राप्त की। कानून व्यवस्था की समीक्षा के सम्बन्ध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने अवगत कराया कि जनपद में कानून व्यवस्था सुदृढ़ है। अपराध में गिरावट आई है। उन्होंने बताया कि छेडखानी, डकैती अपहरण, लूट की घटनाओं में कमी आई है। उन्होंने बताया कि महिलाओं द्वारा दर्ज एफआईआर पर तत्काल कार्यवाही की जाती है। महिलाओं से सम्बन्धित अपराधों में भी कमी आई है। जिलाधिकार सेल्वा कुमारी जे. ने नोडल अधिकारियों को आश्वस्त करते हुए कहा कि आपके द्वारा दिये गये निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराया जायेगा। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव, मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, सीएमओ पीएस मिश्रा, नगर मजिस्ट्रेट अतुल कुमार, सहित समस्त उप जिलाधिकारी व जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share it
Top