टीकाकरण टीम को ग्रामीणों ने लौटाया बैरंग

टीकाकरण टीम को ग्रामीणों ने लौटाया बैरंग

पुरकाजी। पुरकाजी के गांव कैल्लनपुर गांव में ग्रामीणो ने अपने पशुओं को खुरपका मुंहपका के टीकारण करवाने के लिए साफ इंकार कर दिया और जिस कारण टीम को बैरंग लौटना पडा। गा्रमीणों ने अस्पताल में चिकित्सक के न आने का विरोध जताकर हंगामा काटा। पशुओं में खुरपका मुंहपका रोग के भारत सरकार के कार्यक्रम के तहत टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें पशुओं में पशुधन विभाग की टीमें गठित गांव गांव जाकर टीकाकरण किया जा रहा हैं, जिसके तहत कैैल्लनपुर गांव में पहुंची, तो टीम का ग्रामीणों ने टीकाकरण लगवाने का विरोध किया। गांव के लोगों ने कैल्लनपुर अस्पताल के चिकित्सक पर डयूटी पर न आने के गंभीर आरोप लगाए। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि गांव में 8 वर्षो से पशुधन अधिकारी रविन्द्र कुमार नियुक्त है, उक्त चिकित्सक अस्पताल में नहीं आता है, जिस कारण पशुओं को अस्पताल नही खुलता है। गा्रमीणों ने उक्त पशु चिकित्सक रविन्द्र कुमार की मुख्यमंत्री पोर्टल तक शिकायत की जा चूकी है। शुक्रवार की दोपहर डा विजय कुमार के नेतृत्व में टीम में गांव में मुंहपका व खुरपका के लिए टीकाकरण को पहुंची, तो गांव के लोगों ने टीम का विरोध करते हुए शिकायत की। जब तक यहां पर नियुक्त चिकित्सक प्रतिदिन अस्पताल नहीं खोलेंगें तक वे अपने पशुओं को टीकाकरण नहीं कराऐंगें। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि चिकित्सक को 8 वर्षों से अधिक का समय यहां पर नियुक्त हुए हो गया, लेकिन उसके बाद भी चिकित्सक कभी भी अस्पताल में नहीं आता है। ग्रामीणों के विरोध के चलते टीम गांव में बिना टीकाकरण के बैरंग ही लौटना पडा। उधर डा. मोहित कुमार ने बताया कि गांव कैल्लनपुर के पशुधन अधिकारी के अस्पताल में न आने की शिकायत ग्रामीणो ने की है, जिसकी प्रमुखता से जांच की जाएगी।

Share it
Top