मुज़फ्फरनगर: सीएमओ पर गरीबो की रोजी रोटी छीनने का आरोप...उजाला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को भोजन वितरण करने से हटाया

मुज़फ्फरनगर: सीएमओ पर गरीबो की रोजी रोटी छीनने का आरोप...उजाला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को भोजन वितरण करने से हटाया

मुजफ्फरनगर। जनपद के जिला चिकित्सालय में पिछले करीब चार सालो से जिला महिला चिकित्सालय मुजफ्फरनगर में जच्चा-बच्चा केन्द्र में नि:शुल्क भोजन वितरण करने के लिए उजाला स्वयं सहायता समूह ग्राम मोलाहेडी राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन संस्था के नाम से कार्यरत 10 महिलाओं ने मुख्य चिकित्साधिकारी पर गरीबो की रोजी रोटी छीनने का आरोप लगाया। उजाला स्वयं सहायता समूह ग्राम मोलाहेडी राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के कार्यकर्ताओं ने मीडिया सैंटर पर आयोजित पत्रकारो से वार्ता करते हुए बताया कि हाल ही में मुख्य चिकित्साधिकारी मुजफ्फरनगर द्वारा जिला महिला चिकित्सालय मुजफ्फरनगर में जच्चा-बच्चा केन्द्र में नि:शुल्क भोजन वितरण करने के सम्बन्ध में टेंडर निकाल दिया हैं, जबकि जिला महिला चिकित्सालय मुजफ्फरनगर में करीब पिछले चार सालों से कार्य कर रही सभी महिलाएं हैं। बीपीएल रेखा से भी ज्यादा गरीब होने के कारण मुख्य चिकित्साधिकारी निकाले गये टेंडर की औपचारिकताएं भी पूर्ण करने में असमर्थ हैं। संस्था की कार्यकत्री बबीता ने बताया कि कार्यरत महिलाओं के पास संस्था में कार्य करने के अलावा कोई और कमाई का साधन नही होने की बात कही। मुख्य चिकित्साधिकारी मुज़फ्फरनगर द्वारा निकाले गये टैंडर को निरस्त कराने हेतू मंत्री स्वामी प्रसाद मोर्य श्रम एवं सेवायोजन समन्वय विभाग उत्तर प्रदेश को पत्र के माध्यम से जानकारी दी गयी थी, जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी को उपरोक्त टेंडर को मुक्त कराने के निर्देश भी दिये गये थे। बावजूद इसके जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने नवीनीकरण करने से इंकार करते हुए कहा कि अब तुम्हारा कार्य यहाँ नही होगा माननीय प्रधान मंत्री करेगें। उजाला स्वयं सहायता समूह ग्राम मोलाहेडी राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन संस्था के पदाधिकारियो ने मुख्य चिकित्साधिकारी पर गरीबो की रोजी रोटी छीनने का आरोप लगाया उन्होने सरकार से पुन: काम पर लगाने का आग्रह किया है। पत्रकार वार्ता मे सुरेद्र, बबीता, प्रिती, प्रवीण आदि मौजूद रहे।

Share it
Top