बहन के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखने पर युवक की नृशंस हत्या, जंगल में पड़ा मिला शव

मीरांपुर। चार दिनों से लापता एक युवक की उसके मित्रों ने गला घोटकर हत्या कर दी। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण नेपाल सिंह ने बताया कि मृतक की हत्या अवैध सम्बन्धों के चलते की गयी थी। इस मामले का खुलासा पुलिस ने 24 घंटो के अन्दर कर एक अपराधी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। दूसरा हत्यारोपी फरार है। ग्राम बलीपुरा निवासी इरशाद पुत्र महबूब अपने मित्रो दीपक पुत्र शीशपाल व छोटू पुत्र पूरणनाथ निवासी कासमपुर खोला 12 अक्टूबर को अपनी बाइक द्वारा मिलने के लिये गया था, तभी से इरशाद लापता चल रहा था। परिजनों द्वारा तलाश करने के बाद इरशाद की जानकारी न मिलने पर गुमशुदगी की रिपोर्ट 14 अक्टूबर को उसके पिता महबूब ने दर्ज करायी थी। पुलिस ने इस मामले को संदिग्ध मानते हुए गम्भीरता से जांच पडताल शुरू कर दी। 15 अक्टूबर की सुबह थानाध्यक्ष पंकज त्यागी को कुछ ग्रामीणों ने सूचना दी कि एक अज्ञात शव कासमपुर खोला के जंगल में पडा है। पुलिस ने शव की पहचान इरशाद पुत्र महबूब निवासी ग्राम बलीपुरा के रूप में की। शव मिलने के बाद पुलिस इस मामले में सक्रिय हुई तथा त्वरित कार्यवाही करते हुए दीपक पुत्र शीशपाल निवासी कासमपुर खोला को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। पूछताछ के दौरान दीपक ने इरशाद की हत्या करना स्वीकार कर लिया। सूचना पाकर एसपी देहात नेपाल सिंह व क्षेत्राधिकारी धनंजय सिंह कुशवाहा मौके पर पहुंचे। एसपी देहात ने बताया कि दीपक की बहन के अवैध सम्बन्ध इरशाद के साथ थे। कुछ दिन पूर्व दीपक ने अपनी बहन को इरशाद के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। इसके बाद से ही दीपक ने इरशाद की हत्या करने की योजना बनानी शुरू कर दी। दीपक ने अपने मित्र छोटू के साथ मिलकर इरशाद को 12 अक्टूबर को बुलाकर गंगा बैराज ले गये, जहां तीनो ने शराब पी। शराब पीने के बाद दोनों ने इरशाद को कासमपुर के जंगल में ले जाकर इरशाद की कपडे से गला घोटकर हत्या कर दी। हत्या के बाद इरशाद का शव जंगल में छिपा दिया। इसके बाद दीपक व छोटू अपने घर आ गये। मृतक इरशाद विवाहित है तथा उसके एक पुत्री जेबा 6 वर्ष तथा पुत्र असद 4 वर्ष हैं। शव मिलने के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मचा है। पुलिस ने दीपक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है तथा उसके फरार साथी छोटू की गिरफ्तारी के लिये दबिश दी जा रही है। थानाध्यक्ष मीरापुर पंकज कुमार त्यागी तथा उनकी टीम को 24 घंटो के अन्दर हत्या का खुलासा करने पर एसपी ग्रामीण नेपाल सिंह ने बधाई दी है। मीरांपुर थाना प्रभारी पंकज कुमार त्यागी ने पुलिस टीम के साथ देररात्रि में रजवाहा पटरी पर मुठभेड के दौरान दूसरे हत्यारोपी छोटू पुत्र पूर्णनाथ निवासी कासमपुर खोला को भी तमंचा कारतूस समेत दबोच लिया।

Share it
Top