उत्कल में बम की खबर पर जीआरपी ने स्टेशन खंगाला ...तीनों प्लेटफार्म सहित यात्रियों के सामानों की बारीकी से की गयी सघन चैकिंग, यात्री परेशान

मुजफ्फरनगर। रविवार की ही भांति सोमवार का दिन भी रेलयात्रियों के लिए भारी रहा। एक ओर उन्हें घंटों स्टेशन पर ट्रैनो की प्रतीक्षा करनी पडी, तो दूसरी ओर उन्हेें जीआरपी की चैकिंग का भी सामना करना पडा। उत्कल एक्सप्रेस में बम होने की खबर पर जीआरपी ने सुरक्षा के मद्देनजर मुजफ्फरनगर रेलवे स्टेशन पर सघन चैकिंग अभियान चलाया। चैकिंग अभियान के चलते जीआरपी ने पूरे स्टेशन परिसर सहित यात्रियों व उनके सामान की जांच-पड़ताल की। सोमवार को गाडी संख्या-18478 उत्कल एक्सप्रेस में बम होने की खबर मिलते ही जीआरपी हरकत में आ गयी और एसआई हरिओम शर्मा अपने दल-बल के साथ स्टेशन पर पहुंचे। जहां पर उनके द्वारा सघन चैकिंग अभियान चलाया गया, जिसमें तीनों प्लेटफार्म सहित आरक्षण केन्द्र, टिकटघर, पूछताछ केन्द्र, रेलवे ट्रैक प्रतीक्षालय सहित पार्सल कार्यालय आदि जगहों को गहना से खंगाला। इसके अतिरिक्त यात्रियों व उसके सामानों की भी अच्छी प्रकार से तलाशी ली गयी। गौरतलब है कि प्रात: लगभग 8:30 बजे उत्कल एक्सप्रेस में बम होने की खबर पर जैसे ही टपरी स्टेशन पर रोककर डॉग स्क्वायड व बम स्क्वायड लाकर उसे चैक किया गया, वहीं उस समय गुजरने वाली टेऊनों को आसपास के स्टेशनों पर खडा किया गया, जिसमें गाडी संख्या 12017 शताब्दी एक्सप्रेस को सुरक्षा के मद्देनजर नागल स्टेशन पर रोका गया। 14511 नौचंदी एक्सप्रेस को रोहाना रोका गया। इसके साथ ही 54539 निजामुद्दीन- अम्बाला पैसेंजर, 12688 मुदरई एक्सप्रेस, 22660 कोच्चीवेली मेल, 14682 जालंधर नई दिल्ली एक्सप्रेेस व 64562 अम्बाला दिल्ली पैसेंजर शामिल है। दो घंटे की मशक्कत के उपरांत उत्कल में बम होने की खबर अफवाह निकली। अफवाह फैलाने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार लिया गया। मुजफ्फरनगर स्टेशन पर गाडिय़ों का संचालन बंद होने को लेकर यात्रियों में खलबली मची रही और ट्रेनों के चलने को लेकर पूछताछ केन्द्र पर यात्रियों का जमावडा रहा। सुरक्षा के मद्देनजर यात्रियों को यह बताया गया कि तकनीकी कमी के चलते ट्रेनों का संचालन ठप हुआ है। बम होने की अफवाह को छुपाया गया। गौरतलब है कि रविवार को गाडी संख्या-14522 अम्बाला दिल्ली इंटरसिटी में लगा पैंटो मंसूरपुर में डिफैक्टीव हो गया था, जिसके चलते चार घंटे रेलवे यात्रायात पूरी तरह से ठप हो गया था, जिसके चलते लगभग आधा दर्जन से अधिक ट्रेनों को आसपास के स्टेशनों रोका गया, जिसमें सुपर व उत्कल मुजफ्फरनगर मेें ओखा व अम्बाला-दिल्ली पैसेंजर बामनहेडी, जनशताब्दी नरा जडौदा व शताब्दी बीच जंगल में मंसूरपुर व खतौली के बीच खडी रही थी।

Share it
Top